ऑस्ट्रेलिया में खालिस्तानी नफरत का शिकार हुआ एक और हिंदू मंदिर, भारतीय समुदाय को आतंकित करने की कोशिश

पिछले महीने, ब्रिस्बेन के गायत्री मंदिर को पाकिस्तान स्थित खालिस्तान चरमपंथियों से डराने-धमकाने वाले फोन आए, जिसमें हिंदू समुदाय से खालिस्तान जनमत संग्रह का समर्थन करने के लिए कहा गया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

ऑस्ट्रेलिया में मंदिरों पर हो रहे हमले के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। शनिवार को खालिस्तान समर्थकों ने श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर को निशाना बनाया। मंदिर के अध्यक्ष सतिंदर शुक्ला ने द ऑस्ट्रेलिया टुडे को बताया: पुजारी और भक्तों ने आज सुबह फोन किया और मंदिर की चारदीवारी पर की गई तोड़फोड़ के बारे में सूचित किया। हमने क्वींसलैंड पुलिस अधिकारियों को सूचित किया है, और उन्होंने मंदिर और भक्तों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया है।

इस मामले से भारतीय समुदाय में गुस्सा है। इस घटना से पहले खालिस्तानी समर्थकों ने 22 फरवरी को ब्रिस्बेन में भारतीय वाणिज्य दूतावास को निशाना बनाया था। 2023 की शुरूआत में, ऑस्ट्रेलिया में हिंदू मंदिरों में खालिस्तानी तत्वों द्वारा भारत विरोधी नारों और आपत्तिजनक चित्रों केसाथ दीवारों को विकृत करने वाले बर्बर हमलों में तेजी देखी गई है।


पिछले महीने, ब्रिस्बेन के गायत्री मंदिर को पाकिस्तान स्थित खालिस्तान चरमपंथियों से डराने-धमकाने वाले फोन आए, जिसमें हिंदू समुदाय से खालिस्तान जनमत संग्रह का समर्थन करने के लिए कहा गया। अकेले 12 से 23 जनवरी के बीच, मेलबर्न में तीन प्रमुख हिंदू मंदिरों को निशाना बनाया गया था।

ब्रिस्बेन के एक निवासी ने द ऑस्ट्रेलिया टुडे को बताया, खालिस्तान समर्थक ऑस्ट्रेलियाई हिंदू समुदाय को आतंकित कर रहे हैं, लोग मंदिरों में जाने का दर्दनाक अनुभव लेकर आ रहे हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;