पलायन रोकने के लिए सीएम केजरीवाल का ऐलान, किराया नहीं भर पा रहे हैं मजदूर तो सरकार करेगी भुगतान

मजदूरों के पलायन पर चिंतित दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मजदूरों से अपील करते हुए कहा कि आप जहां हैं वहीं रहें, हम हर संभव मदद करने के लिए तैयार है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। हर दिन कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। अबतक कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा 979 पहुंच गया है, वहीं, देश में अब तक 25 लोगों की जान जा चुकी है। इस बीच दिल्ली से प्रवासी मजदूरों का पलायन भी लगातार जारी है। मजदूरों के इस पलायन को देखते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

सरकार देगी मजदूरों के मकान का किराया: केजरीवाल

दिल्ली के सीएम ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपील की है कि जो लोग जहां हैं वहीं रहें और बाहर नहीं निकले। दिल्ली सरकार उनके रहने और खाने का पूरा इंतजाम कर रही है। उन्होंने प्रवासी मजदूरों से अपील कर कहा कि आप अपने घर में रहें सरकार आपके कमरे का किराया दे देगी। अरविंद केजरीवाल ने बताया कि राज्य में खाने-पीने की कमी नहीं है। हम 4 लाख लोगों को दिन और रात का खाना हर दिन खिलाएंगे।


जो जहां भी हैं, वहीं रहें : अरविंद केजरीवाल

इसके अलावा अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली और यूपी के बॉर्डर पर भारी भीड़ है। अन्य राज्यों में भी लोग पलायन कर रहे हैं। गोवा, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड आदि में लोग शहर छोड़कर गांव में जा रहे हैं। सभी से हाथ जोड़कर अपील है कि पीएम ने कहा था कि जो जहां हैं, वहीं रहें। यही कोरोना को रोकने का मंत्र है। ये मंत्र नहीं लागू हुआ, तो हम फेल जो जाएंगे। जो लोग अपना शहर छोड़कर गांव गए, वे बताएं कि भीड़ में बगल वाले को कोरोना होगा, तो आपको भी होगा। इतने हजार लोगों में 2-4 लोगों कोरोना है, तो सबमें फैल जाएगा । उन्होंने कहा कि अगर आपको भी हो गया तो गांव में कोरोना लेकर पहुंचोगे। प्रधानमंत्री ने जो कहा है, उसका फॉलो करो। हमारे देश में अगर फैल गया तो बड़ी मुश्किल होगी।

'इस वक्त केवल सेवा करें, राजनीति नहीं'


सीएम केजरीवाल ने कहा, 'मैं अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं से कहना चाहता हूं, ये राजनीति करने का टाइम नहीं है। हमें लोगों की सेवा करनी है, लोगों को बचाना है। कोई आरोप लगाता है तो लगाने दो, ये वक्त विरोधियों से उलझने का नही है। हमें कोरोना से लड़ना है।' उन्होंने कहा कि जिसके पास ऊपर वाले का दिया सब कुछ है, सारे बिजनेस मैन, ठेकेदार सब लोग अपने कर्मचारियों को पैसा जरूर देना और किसी को भूखा मत रहने देना। यही वक्त है इंसानियत दिखाने का, यही वक्त है देश को बचाने का है।

'18 दिन लॉकडाउन बचे हैं, गीता का पाठ करें'


सीएम केजरीवाल ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से कहना चाहता हूं कि लॉकडाउन के 18 दिन बचे हैं। ऐसे में अगर आप चाहें तो गीता के 18 अध्ययाय का पाठ करें। मैं और मेरी पत्नी ने आज से यह शुरू किया है। आपको बता दें, दिल्ली से पांचवें दिन भी हजारों मजदूरों का पलायन जारी है। दिल्ली के आनंद विहार पर कल से ही हजारों की तादाद में मजदूर मौजूद थे। कई लोग सड़क के किनारे बने फुटपाथ पर अपना सामान लिए सो रहे हैं तो कुछ लोग बस डिपो पर इक्कठा हुए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia