बदायूं केस: NCW की सदस्य ने महिला के असमय जाने पर उठाए सवाल, कहा- शाम को घर से बाहर नहीं निकलती तो ये घटना न होती

उत्तर प्रदेश के बदायूं में महिला के साथ गैंगरेप के बाद हत्या की घटना का संज्ञान लेन गुरुवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी बदायूं पहुंचीं। यहां उन्होंने महिला के घर से बाहर निकलने के समय पर ही सवाल उठा दिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

रवि प्रकाश

उत्तर प्रदेश के बदायूं में महिला के साथ गैंगरेप के बाद हत्या की घटना का संज्ञान लेन गुरुवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी बदायूं पहुंचीं। यहां उन्होंने महिला के घर से बाहर निकलने के समय पर ही सवाल उठा दिए। चंद्रमुखी देवी ने महिलाओं के घर से बाहर निकलने के समय और किसके साथ जाएं, इस पर भाषण दे दिया। उन्होंने कहा कि महिलाओं को कभी भी किसी के प्रभाव में समय-असमय नहीं पहुंचना चाहिए। अगर शाम के समय वो महिला नहीं गई होती या परिवार का कोई सदस्य साथ में होता तो शायद ऐसी घटना नहीं घटती, लेकिन ये सुनियोजित था, क्योंकि उसको फोनकर बुलाया गया। वो वहां गई।

वहीं उनके इस बयान पर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कि राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्या का ये बयान न केवल घृणित है, बल्कि भाजपाई सत्ता की सोच के समकक्ष खड़ा नजर आता है। इनको एक पल उस कुर्सी पर बैठने का अधिकार नहीं है, जहां से महिला अधिकारों के संरक्षण और वकालत की उम्मीद की जाती है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी पीड़िता के परिवार से मिलने उनके घर गई थीं। सउन्होंने परिजनों को शीघ्र ही न्याय का आश्वासन भी दिया। उन्होंने यहां पर सामूहिक दुष्कर्म की विभत्स घटना की कड़ी निंदा की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई होगी। लेकिन इस दौरान वो कुछ ऐसा कह गईं जिस पर सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ बयानों के बाढ़ आ गए।


राष्ट्रीय महिला आयोग ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाया है। आयोग की मेंबर ने कहा कि, अगर पुलिस समय रहते परिवार वालों की सूचना पर पहुंचती तो शायद मृतका की जान बच सकती थी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ऐसी घटनाओं के लिए संवेदनशील है, लेकिन कहीं ना कहीं महिला उत्पीड़न के मामलों में पुलिस को और ज्यादा संवेदनशील होना पड़ेगा।

चंद्रमुखी देवी ने परिजनों को भरोसा दिलाया कि दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई कराई जाएगी। क्यावली गांव में पीड़ित परिवार से बात करने के बाद वह घटनास्थल मेवली गांव भी गईं और मौके पर मुआयना किया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 07 Jan 2021, 8:30 PM