नीतीश सरकार में बीजेपी कोटे से मंत्री बोले- मेरे विभाग में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार, सफाई दे रहे जेडीयू नेता

बिहार के राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री राम सूरत राय मुजफ्फरपुर में अपने सम्मान में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान राम सूरत राय ने कहा कि ‘पूरे राज्य में भ्रष्टाचार है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

रवि प्रकाश

बिहार में भ्रष्टाचार की चर्चा हमेशा होती रहती है। विधानसभा चुनाव के दौरान भी आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ब्लॉक और थानों में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साधते रहे। अब नीतीश सरकार के मंत्री ने खुद ही कहा है कि उनके विभाग में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार है। दरअसल सोमवार को बिहार के राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री राम सूरत राय मुजफ्फरपुर में अपने सम्मान में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान राम सूरत राय ने कहा कि ‘पूरे राज्य में भ्रष्टाचार है। मुझे यह बात कहने में कोई हिचक नहीं है कि नीचले स्तर के कर्मचारी इस काम में संलिप्त हैं। आम लोगों की सही समस्याओं को भी नजरअंदाज किया जा रहा है। राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्रालय की समीक्षा के दौरान मैंने नीतीश कुमार को इस बात की जानकारी दी है कि मेरे विभाग में लोगों की काफी कमी है और उन्होंने मुझे भरोसा दिलाया है कि नई भर्तियां जल्द ही होंगी।’

साथ ही मंत्री जी ने यह भी दावा किया कि सीएम नीतीश कुमार भी मानते हैं कि राज्य में जमीन विवाद एक बड़ा मुद्दा है। जमीन विवाद की वजह से राज्य में अपराध की घटनाए बहुत बढ़ी है। बीजेपी नेता राम सूरत राय ने कहा कि मेरे विभाग में भी गलत तरीके से जमीन का दाखिल-खारिज होता है।

बिहार के कैबिनेट मंत्री ने इस दौरान अपने विभाग के कर्मचारियों को चेतावनी भी दी कि वो मेहनत से काम कर नतीजे दिखाएं वरना उनका वेतन काट लिया जाएगा। मंत्री ने कहा कि ‘वैसे कर्मचारी जो बढ़िया प्रदर्शन करेंगे उन्हें इनाम दिया जाएगा औऱ जो बढ़िया काम नहीं करेंगे सजा के तौर पर उनका वेतन काट लिया जाएगा।’


उनके इस बयान पर विपक्षी दलों ने नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। आरजेडी के नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि ‘मंत्री ने सरकार की सच्चाई को उजागर किया है। ये सच्चाई है और सरकार को इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए।’ भाई वीरेंद्र ने कहा कि ‘ये बात जनता कहती तो लोग नहीं मानते लेकिन खुद मंत्री जी ये बात कह रहे हैं।’

वहीं जेडीयू इस पर सफाई देने में लग गई है। जेडीयू एमएलसी खालिद अनवर ने कहा कि ‘राम सूरत राय नए-नए मंत्री बने हैं…उन्हें अंदाजा नहीं है कि नीतीश कुमार की सरकार भ्रष्टाचार के मामले में जीरो टॉरलेन्स की सरकार है। बिहार पहला राज्य है जहां भ्रष्टाचार के मामले में बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है।’

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia