जब पिछले चुनावों में ही गलत निकले थे एग्जिट पोल के नतीजे, तो गुजरात में कैसे जीतेगी बीजेपी!

गुजरात विधानसभा चुनाव खत्म होते ही तमाम समाचार संस्थानों ने एग्जिट पोल जारी किया है। इसमें सभी ने गुजरात और हिमाचल में बीजेपी की जीत का अनुमान लगाया है। लेकिन क्या ये अनुमान सही साबित होंगे?

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बीजेपी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुके गुजरात का चुनाव खत्म होते ही, देश के मीडिया संस्थानों ने जो एग्जिट पोल पेश किए, उसमें गुजरात और हिमाचल, दोनों राज्यों में बीजेपी की सरकार बनने का आंकलन किया गया है। अलग-अलग सर्वे एजेंसियों द्वारा कराए गए सर्वे में बीजेपी को हिमाचल में बड़ी कामयाबी मिलती दिखाई दे रही है। वहीं गुजरात में भी बीजेपी की वापसा का अनुमान लगाया गया है। हालांकि गुजरात में बीजेपी को 2012 के मुकाबले कम सीटें मिलती नजर आ रही हैं।

गुजरात में क्या कहता है एग्जिट पोल

182 सदस्यों वाली गुजरात विधानसभा में बहुमत के लिए 92 सीटों की जरूरत होती है। टुडेज चाणक्या के सर्वे में गुजरात में बीजेपी को सबसे ज्यादा 135-146 सीट मिलने की संभावना जताई गई है। वहीं टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल में बीजेपी को 109 और कांग्रेस को 70 सीटें मिलने का अनुमान है। जबकि इंडिया टुडे-एक्सिस के एग्जिट पोल में बीजेपी 99 से 113 सीट और कांग्रेस को 68 से 82 सीटों पर जीत मिलती नजर आ रही हैं। एबीपी न्यूज और सीएसडीएस के एग्जिट पोल में बीजेपी को 117 और कांग्रेस को 64 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है। वहीं इंडिया टीवी -वीएमआर एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी को 104 से 114 सीट और कांग्रेस को 65-75 सीटें मिल सकती हैं। रिपब्लिक चैनल की बात करें तो उसके सर्वे में बीजेपी को 109 और कांग्रेस को 71 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है।

नवजीवन ग्राफिक्स
नवजीवन ग्राफिक्स
अलग-अलग एजेंसियों द्वारा दिखाए गए आंकलन

लेकिन क्या यह आंकड़े भरोसे लायक हैं। पिछले कई चुनावों में इन्हीं सर्वे एजेंसियों के आंकड़े बुरी तरह गलत साबित होते रहे हैं। मिसाल के तौर पर टुडेज़ चाणक्य ने तो 2015 के बिहार चुनाव में बीजेपी को 155 सीटों का आंकलन किया था, लेकिन बीजेपी के हिस्से में आई थीं 60 से भी कम सीटें। यही हाल अन्य एजेंसियों का भी रहा था।

क्या होगा हिमाचल प्रदेश में

वहीं हिमाचल की बात करें तो यहां एग्जिट पोल के नतीजे मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ जा रहे हैं। इन सर्वे के अनुसार इस पहाड़ी राज्य में बीजेपी जोरदार वापसी कर सकती है। यहां कांग्रेस की स्थित ज्यादा खराब नजर आ रही है। ‘न्यूज 24’ और टुडेज चाणक्या के एग्जिट पोल में यहां बीजेपी को 55 सीट मिलती नजर आ रही है, जबकि कांग्रेस के खाते में सिर्फ 13 सीटें जाती दिखाई दे रही हैं। इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक हिमाचल में बीजेपी को 47 से 55 सीटें मिल सकती हैं और कांग्रेस को यहां 13 से 21 सीटें मिलती नजर आ रही हैं। वहीं, टाइम्स नाऊ-एक्सिस के एग्जिट पोल में बीजेपी 51 सीट जीत सकती है, जबकि कांग्रेस को महज 17 सीटों परही संतोष करना पड़ सकता है। नवभारत टाइम्स-सी वोटर के एग्जिट पोल के मुताबिक यहां बीजेपी को 41 और कांग्रेस को 25 सीटें मिलने का अनुमान है।

इस तरह कांग्रेस का हिमाचल की सत्ता से जाना तय माना जा रहा है जबकि गुजरात में बीजेपी की पकड़ कायम रहती नजर आ रही है। गुजरात जहां बीजेपी के लिए नाक का सवाल बन गया है वहीं कांग्रेस के लिए देश में अपने आपको मजबूत करने के लिए शानदार मौका है। इसीलिए राहुल गांधी ने वहां जमकर का प्रचार किया। राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष चुने जा चुके हैं। ऐसे में गुजरात में पार्टी की सफलता के साथ उनकी शानदार शुरुआत हो सकती थी। हालांकि ये एग्जिट पोल हैं और पहले कई चुनावों में एग्जिट औऱ ओपीनियन पोल गलत साबित हे रहे हैं। अब तो 18 दिसंबर को जब आखिरी तौर पर जब नतीजे आएंगे तभी सबकुछ साफ हो पाएगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;