धोखाधड़ी के मामले में BJP सांसद गौतम गंभीर के खिलाफ चार्जशीट दाखिल, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

BJP सांसद गौतम गंभीर पर आरोप है कि उन्होंने गाज़ियाबाद के इंदिरापुरम में एक रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में निवेश करने के लिए खरीदारों को आकर्षित करने में कंपनी की मदद की थी। गंभीर इस प्रोजेक्ट में ब्रांड एंबेसडर थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

दिल्ली से BJP सांसद और पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर की मुश्किलें बढती नज़र आरही हैं। दिल्ली की साकेत कोर्ट में गंभीर के खिलाफ एक आरोप पात्र दाखिल किया गया है, जिसमें करीब 50 फ़्लैट खरीदारों ने शिकायत की है कि उन्होंने उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद के इंदिरापुरम में एक रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में फ्लैट बुक किए थे, लेकिन करीब आठ साल बाद भी खरीदारों को उनके फ्लैट नही मिले। इस प्रोजेक्ट में गौतम गंभीर ब्रांड एंबेसडर थे।

दरअसल साल 2011 में ‘रूद्र बिल्डवेल रियलिटी प्राइवेट लिमिटेड’ और ‘एचआर इंफ्रासिटी प्राइवेट लिमिटेड’ के एक जॉइंट प्रोजेक्ट के लिए गौतम गंभीर ब्रांड एंबेसडर बने थे। इस मामले में उनके खिलाफ 2016 में हाउसिंग प्रोजेक्ट की बुकिंग के बहाने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था।

साकेत कोर्ट में दर्ज की गई चार्जशीट में पुलिस ने आरोप लगाया कि कंपनी ने 6 जून 2013 को लोगों को फ्लैट देने का वादा किया था, लेकिन इसके एक साल बाद भी फ़्लैट के नाम पर खरीदारों को झूठा आश्वासन दिया जाता रहा। 15 अप्रैल, 2015 में अधिकारियों ने आवश्यक लाइसेंस फीस आदि के भुगतान और अन्य अव्यवस्था के कारण परियोजना का अनुमोदन रद्द कर दिया।

इस मामले में पुलिस ने गौतम गंभीर के साथ-साथ अन्य प्रोमोटर मुकेश खुराना, गौतम मेहरा और बबीता खुराना सहित कई लोगों का नाम भी चार्जशीट में शामिल किया हैं। गौतम गंभीर पर आरोप है कि उन्होंने इस प्रोजेक्ट में निवेश करने के लिए खरीदारों को आकर्षित करने में कंपनी की मदद की थी।

लोकप्रिय