सैटेलाइट तस्वीरों से ड्रैगन की साजिश का खुलासा, अब सिक्किम के नाकू ला और डोकलाम के पास मिसाइल साइट बना रहा चीन

मोदी सरकार भले ही चीन को लेकर देश के सामने सारी सच्चाई नहीं बता रही हो, लेकिन सीमा पर ड्रैगन लागातार अपनी चालें चल रहा है। लद्दाख एलएसी पर तनाव के बीच चीन अपनी तरफ एलएसी पर निर्माण कार्य में तेजी से जुटा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार भले ही चीन को लेकर देश के सामने सारी सच्चाई नहीं बता रही हो, लेकिन सीमा पर ड्रैगन लागातार अपनी चालें चल रहा है। लद्दाख एलएसी पर तनाव के बीच चीन अपनी तरफ एलएसपी में निर्माण कार्य में तेजी से जुटा है। चीन की चाल का पता कई बार सैटेलाइट तस्वीरों से चला है। सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी डोकलाम और नाकू ला पर मिसाइल साइट बनाने में जुटी है। इन इलाकों पर चीन अपने हवाई रक्षा सिस्टम को बेहतर करना चाहता है।

खबर है कि इन साइट पर चीन अपने एयर डिफेंस को मजबूत करने के लिए मिसाइल डिफेंस सिस्टम लगा सकता है। ओपन सोर्स ट्विटर हैंडल @detresfa ने चीन की इस हरकत का खुलासा किया है। @detresfa ने सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट @SimTack के साथ जांच में खुलासा किया है कि मिसाइल साइट की लोकेशन डोकलाम में चीन, भूटान और भारत के बीच बने ट्राई-जंक्शन के करीब है। बता दें कि इसी जगह पर 2017 में भारत और चीन के बीच टकराव हुआ था। इस दौरान दोनो देशों की सेनाएं करीब दो महीने तक आमने-सामने रही थीं।


इस जांच में खुलासा हुआ है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने 2017 की भारत-चीन के टकराव वाली जगह से करीब 50 किलोमीटर दूर ही एक एयर डिफेंस इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा कर लिया है। इस जगह पर सर्फेस-टू-एयर मिसाइल साइट्स बनाई गई हैं, जो कि पहले के एयर डिफेंस की कमियों को पूरा कर देगी। बता दें कि भारत काफी लंबे समय से डोकलाम और पूर्वोत्तर के कई इलाकों में चीन की हरकतों पर नजर रखने के लिए हवाई सर्विलांस मिशन करता रहा है।

माना जा रहा है कि चीन डोकलाम स्थित ट्राई-जंक्शन पर निर्माण कार्य कर के भारत और भूटान पर दबाव बनाना चाहता है। चीनी सरकार लंबे समय से भूटान से डोकलाम में सीमा विवाद को लेकर समझौता करने पर अड़ा है। इसी के चलते चीनी सैनिकों ने डोकलाम के करीब विवादित इलाके पर कब्जा कर रखा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 29 Aug 2020, 3:47 PM
;