चिराग पासवान ने राजनाथ को पत्र लिखा, अग्निपथ योजना वापस लेने का अनुरोध, जेडीयू नेता ने भी उठाए सवाल

अग्निपथ योजना पर भारी विरोध के बाद लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर इसे तत्काल वापस लेने का अनुरोध किया।

फोटो  : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अग्निपथ योजना पर भारी विरोध के बाद लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर इसे तत्काल वापस लेने का अनुरोध किया। पासवान ने कहा कि केंद्र के इस तरह के कदम से देश में बेरोजगारी बढ़ेगी।

पासवान ने पत्र में कहा, "अग्निपथ योजना से युवाओं का भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। नौकरी के इच्छुक पुराने प्रारूप के अनुसार परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। नई योजना शुरू होने के बाद युवा आक्रोशित हैं। इसलिए बिहार सहित कई राज्यों में हिंसक विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।"

पासवान ने कहा, "अग्निपथ योजना से देश में बेरोजगारी बढ़ेगी। इससे युवाओं में असंतोष फैलेगा, जो एक बड़ी चिंता होगी। मैं रक्षा मंत्री से इस फैसले पर पुनर्विचार करने और इसे वापस लेने का अनुरोध करता हूं।"

नीतीश कुमार सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे बिजेंद्र प्रसाद यादव ने भी नई योजना पर सवालिया निशान लगा दिया है। यादव ने कहा, "छात्र अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे हैं। इस मामले में केंद्र को युवाओं और उनकी यूनियनों से बात करनी चाहिए। सरकार को आम लोगों से सुझाव लेना चाहिए।"


जन अधिकार पार्टी (जाप) के प्रमुख राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि अग्निपथ योजना रक्षा बलों के लिए आत्मघाती साबित हो सकती है। उन्होंने कहा, "इस तरह का कदम रक्षा कर्मियों का मनोबल तोड़ सकता है। भारतीय सेना हमारा गौरव है और इस पर राजनीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी।"

पप्पू यादव ने कहा, "बीजेपी सरकार 2014 के लोकसभा चुनाव में वन रैंक वन पेंशन का वादा लेकर आई थी और अब वह देश में नो रैंक नो पेंशन लागू कर रही है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia