नागरिकता संशोधन बिल: राज्यसभा में हो सकता है उलटफेर, शिवसेना नेता संजय राउत के बयान से बीजेपी में खलबली

नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में प्रदर्शन जारी है। पटना में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि नागरिकता संशोधन बिल असंवैधानिक है। तेजस्वी ने कहा कि भारत के संविधान में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि देश को धर्म के आधार पर विभाजित नहीं किया जा सकता है।

फोटो: सोशल मडिया
फोटो: सोशल मडिया
user

नवजीवन डेस्क

नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास होने के बाद आज राज्यसभा में पेश कर दिया गया है। राज्यसभा से इस बिल को पास कराने में मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। राज्यसभा में इस बिल को पेश करने से पहले शिवसेना नेता संजय राउत का बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि अगर सरकार द्वारा उनकी शंकाओं को दूर नहीं किया गया तो उनकी पार्टी अलग फैसला ले सकती है।

संजय राउत ने कहा कि वोटबैंक की राजनीति नहीं खेली जानी चाहिए, यह सही नहीं है। उन्होंने कहा कि फिर से हिंदू और मुस्लिम को बांटने की कोशिश मत करो। राउत ने कहा कि इस विधेयक में श्रीलंका के तमिल हिंदुओं के लिए कुछ भी नहीं है। संजय राउत का यह बयान इस बात का संकेत है कि शिवसेना बिल के विरोध में राज्यसभा में वोट कर सकती है। ऐसे में मोदी सकार की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। क्योंकि विपक्षी दल पहले से ही एक सुर में इस बिल का विरोध कर रहे हैं।


इससे पहले राहुल गांधी ने इस बिल को लेकर मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “नागरिकता संशोधन बिल के जरिए मोदी-शाह की सरकार ने उत्तर पूर्व के लोगों पर आपराधिक हमला किया है। यह बिल पूर्वोत्तर के लोगों की जीवनशैली पर भी हमला करता है। मैं पूर्वोत्तर के लोगों के साथ मजबूती से खड़ा हूं।”

इस बिल के विरोध में सियासी पार्टियों से लेकर आम जनता तक सड़क पर है। बिहार की राजधानी पटना में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नागरिकता संशोधन बिल और एनआरसी के खिलाफ अपने समर्थकों के साथ प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन बिल असंवैधानिक है। तेजस्वी ने कहा कि भारत के संविधान में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि देश को धर्म के आधार पर विभाजित नहीं किया जा सकता है।


उधर, असम में इस बिल का विरोध जारी है। असम के गुवाहाटी में नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन किया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 11 Dec 2019, 12:01 PM