बजट सत्र के लिए विपक्ष ने कसी कमर, कांग्रेस ने कहा- आम आदमी से जुड़े मसलों पर ध्यान दे मोदी सरकार

पेगासस जासूसी मुद्दे पर विपक्ष सरकार के खिलाफ कमर कस चुका है जिसके चलते बजट सत्र के हंगामेदार रहने का अनुमान है। कांग्रेस सरकार को घेरने के लिए एक साझा रणनीति बनाने के लिए विपक्षी दलों से संपर्क साध रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस ने बजट सत्र से पहले केन्द्र सरकार से आम आदमी से जुड़े मसलों पर ध्यान देने का आग्रह किया है। पार्टी ने रविवार को जारी एक बयान में कहा कल से शुरू होने वाले बजट सत्र के साथ, क्या मोदी सरकार विफल अर्थव्यवस्था, निरंतर मूल्य वृद्धि, असहनीय बेरोजगारी, चीनी आक्रामकता, केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी, कोविड पीड़ितों और शहीदों के परिवारों को मुआवजा के मुद्दों पर ध्यान देगी।

पेगासस जासूसी मुद्दे पर विपक्ष सरकार के खिलाफ कमर कस चुका है जिसके चलते बजट सत्र के हंगामेदार रहने का अनुमान है। कांग्रेस सरकार को घेरने के लिए एक साझा रणनीति बनाने के लिए विपक्षी दलों से संपर्क साध रही है। देश में पेगासस जासूसी के मामले में न केवल कांग्रेस बल्कि अन्य राजनीतिक दल भी सरकार को घेरने की योजना बना रहे हैं।


विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, हम अन्य राजनीतिक दलों की राय लेंगे और फिर आगे की रणनीति तय की जाएगी।

कांग्रेस ने इसमें सीधे तौर पर प्रधान मंत्री के शामिल होने का आरोप लगाया कि श्री मोदी के इजरायल दौरे के दौरान सरकार ने 2017 में पेगासस स्पाइवेयर और अन्य सैन्य तकनीक को एक पैकेज के रूप में खरीदा, जिसमें लगभग दो बिलियन डॉलर के हथियार और खुफिया गियर शामिल हैं। पार्टी ने कहा कि यह कोई संयोग नहीं है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को रिपोर्ट करने वाले राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय (एनएससीएस) का बजट 2017-18 में 33 करोड़ रुपये से बढ़कर 333 करोड़ रुपये हो गया था।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia