कांग्रेस ने 'भारत न्याय यात्रा' का नाम बदला, अब होगा 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा', जानें पूरा रूट मैप

नाम बदलने का फैसला कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे की अध्यक्षता में हुइ बैठक में लिया गया। इसमें पार्टी महासचिव, राज्य प्रभारी, राज्य इकाई प्रमुख और कांग्रेस विधायक दल के नेता मौजूद थे।

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मार्च करते राहुल गांधी और विभिन्न धर्मों के लोग
भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मार्च करते राहुल गांधी और विभिन्न धर्मों के लोग
user

नवजीवन डेस्क

राहुल गांधी के नेतृत्व वाली 'भारत न्याय यात्रा' का नाम बदल गया है। मणिपुर से मुंबई तक की इस यात्रा को अब 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' के नाम से जाना जाएगा। यात्रा अरुणाचल प्रदेश समेत 15 राज्यों से होकर गुजरेगी। नाम बदलने का फैसला कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे की अध्यक्षता में हुइ बैठक में लिया गया। इसमें पार्टी महासचिव, राज्य प्रभारी, राज्य इकाई प्रमुख और कांग्रेस विधायक दल के नेता मौजूद थे। बैठक के बाद कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने इसकी घोषणा की। पहले यात्रा का नाम 'भारत न्याय यात्रा' था।

जयराम रमेश ने कहा कि कांग्रेस सभी भारतीय ब्लॉक नेताओं को इस यात्रा में भाग लेने के लिए आमंत्रित करती है। इसके लिए निमंत्रण भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 6,713 किलोमीटर से अधिक की यात्रा बसों और पैदल तय की जाएगी। इसमें 110 जिले, लगभग 100 लोकसभा सीटें और 337 विधानसभा क्षेत्र शामिल होंगे। उन्होंने दावा किया कि 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' राजनीति के लिए उतनी ही परिवर्तनकारी साबित होगी, जितनी कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा हुई थी।


कांग्रेस नेता ने बताया कि राहुल गांधी के नेतृत्व में जो कन्याकुमारी से कश्मीर तक 4000 किमी लंबी भारत जोड़ो यात्रा निकाली गई थी। उसने पूरे देश का माहौल बदल दिया था और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में नई ऊर्जा भर दी थी। उन्होंने कहा कि वह यात्रा पार्टी और देश के इतिहास में मील का पत्थर साबित हुई थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;