प्रियंका गांधी का सीएम योगी पर हमला, कहा- किसानों के लिए कोरे दावे की बजाए उन्हें मुआवजा दे यूपी सरकार 

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने बारिश और ओलावृष्टि के चलते किसानों की फसलों को हुए नुकसान को लेकर योगी सरकार से अपील की है। प्रियंका ने कहा है कि सरकार किसानों की बेहतरी के कोरे दावे करने की बजाए नुकसान का आकलन कर उनको मुआवजा दे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने बारिश और ओलावृष्टि के चलते किसानों की फसलों को हुए नुकसान को लेकर योगी सरकार से अपील की है। प्रियंका ने कहा है कि सरकार किसानों की बेहतरी के कोरे दावे करने की बजाए नुकसान का आकलन कर उनको मुआवजा दे।

प्रियंका ने ट्वीट कर कहा- “इन किसानों का दर्द सुनिए। ओलावृष्टि और भारी बारिश के चलते उत्तर प्रदेश की तमाम जगहों पर किसानों की फसल बर्बाद हो गई। कई किसानों की तो 80% तक फसल बर्बाद हो गई है।”

गौरतलब है कि बेमौसम बारिश और ओलवृष्टि से प्रदेश में गेंहू, मटर, आलू और तिलहन की हजारों हेक्टेयर फसलें बर्बाद हो गई हैं। उत्तर प्रदेश में पूर्वाचल से लेकर पश्चिमी जिलों तक खेतों में गिरी पड़ी फसलों को देखकर किसान बेहाल हैं। प्रदेश में एक से छह मार्च तक विभिन्न क्षेत्रों में हुई बारिश और ओले गिरने से सात जिलों में फसलों को नुकसान पहुंचा है। सात जिलों में कुल 2,37,374 किसानों की कुल 1,72,001़8 हेक्टेयर फसलें प्रभावित हुई हैं।

राहत आयुक्त कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, "सिर्फ तीन जिलों-सोनभद्र, जालौन और सीतापुर में 1819.32 हेक्टेयर क्षेत्र में 33 प्रतिशत से अधिक फसलों के क्षतिग्रस्त होने की सूचना प्राप्त हुई है। फसल क्षति के सापेक्ष 5853 किसानों को 17.9 करोड़ रुपये का मुआवजा दिया जाना है।"

प्रतापगढ़ सहित पूर्वाचल के कई जिलों में गुरुवार रात के बाद शुक्रवार सुबह भी बादलों ने डेरा बनाए रखा। कई क्षेत्रों में जमकर बारिश हुई। प्रतापगढ़ में शुक्रवार को तेज हवा चलने से गेहूं और सरसों की भीगी फसल खेत में गिर गई। पकी फसल गिरने से किसानों को खासा नुकसान हुआ है।

उधर, अलीगढ़ में भी बारिश और ओलावृष्टि से आलू की 25 फीसद यानी एक चौथाई फसल बर्बाद होने की आशंका है। इसके अलावा मिर्जापुर, सोनभद्र, चन्दौली, जौनपुर, बुंदेलखण्ड, मध्य यूपी, आगरा, मथुरा, मैनपुरी में रूक-रूक कर हुई बारिश से कटने के लिए खड़ी फसलें बर्बाद हो गई हैं।

लखनऊ के जिला अधिकारी ओपी मिश्रा ने बताया, "सरसों और तोरिया की फसल को ओलावृष्टि से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। आलू और गेहूं की फसलें भी सलामत नहीं रह पाई हैं।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next