शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे कांग्रेस नेताओं पर लाठीचार्ज, प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू समेत कई नेता गिरफ्तार

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय के गेट पर रोक लिया। इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और आराधना मिश्रा मोना सहित कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।

फोटो: @INC
फोटो: @INC
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी के बाद यूपी कांग्रेस के सभी बड़े नेता योगी सरकार के खिलाफ सड़क पर उतर गए हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा का घेराव करने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय के गेट पर रोक लिया। इसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और आराधना मिश्रा मोना सहित कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। हिरासत में लिए जाने के बाद कांग्रेस नेताओं ने योगी सरकार और उत्तर प्रदेश पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष लल्लू का कहना है कि शाह आलम का न तो एफआईआर में नाम है और न ही चार्जशीट में फिर भी उन्हें देर रात गिरफ्तार कर लिया गया। यह सरकार विरोध की आवाज को दबाना चाहती है लेकिन हम कह देते हैं वो कितना भी दमन कर ले कांग्रेस का कार्यकर्ता डरने वाला नहीं है।

बता दें कि शाहनवाज आलम को हजरतगंज पुलिस ने सोमवार रात गिरफ्तार किया था। इसकी सूचना पर सोमवार देर रात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू, कांग्रेस विधान मंडल की नेता आराधना मिश्रा मोना, शहर कांग्रेस अध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान समेत तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ता हजरतगंज कोतवाली पहुंचे और विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसे लेकर पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज भी किया। इसी गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता मंगलवार सुबह भी प्रदर्शन करने जा रहे थे कि पार्टी कार्यालय के बाहर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

वहीं कांग्रेस नेता अजय राय ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'जब जब योगी डरता है, पुलिस को आगे करता है! कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी को और विधायक दल नेता श्री आराधना मिश्रा जी को गिरफ्तार करना योगी सरकार की विफलता का जीता जागता सबूत है! कांग्रेस के सभी सिपाहियों को अति शीघ्र रिहा किया जाए !'

यूपी कांग्रेस ने कई ट्वीट किए हैं, उनमें वीडियो भी हैं, इन्हें इस्तेमाल कर लो

यूपी कांग्रेस ने भी ट्वीट कर योगी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, बीजेपी वाले लाठी चलवाएंगे और हम चुप बैठें ऐसा हो नहीं सकता। एक - एक चोट, एक - एक झूठे मुकदमे का हिसाब लिया जाएगा। हमारे प्रदेश अध्यक्ष, सीएलपी लीडर, उपाध्यक्ष और तमाम कार्यकर्ताओं को फिर गिरफ्तार कार लिया गया है। देखते हैं कितना जगह है आपकी जेल में।'

इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी मंगलवार सुबह ट्वीट कर कांग्रेस नेता शाह आलम की गिरफ्तारी को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा था। प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, “कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता जनता के मुद्दों पर आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। बीजेपी सरकार यूपी पुलिस को दमन का औजार बनाकर दूसरी पार्टियों को आवाज उठाने से रोक सकती है, हमारी पार्टी को नहीं। देखिए किस तरह यूपी पुलिस ने हमारे अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को रात के अंधेरे में उठाया।”

उन्होंने आगे कहा, “पहले फर्जी आरोपों को लेकर हमारे प्रदेश अध्यक्ष को चार हफ्तों के लिए जेल में रखा। ये पुलिसिया कार्रवाई दमनकारी और आलोकतांत्रिक है। कांग्रेस के सिपाही पुलिस की लाठियों और फर्जी मुकदमों से नहीं डरने वाले।”

बता दें कि सोमवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देर शाम पुलिस ने प्रदेश कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम को उनके घर से संदिग्ध तरीके से उठा लिया। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हुई है। पुलिस का कहना है कि पिछले साल दिसंबर में हुई सीएए विरोधी हिंसा में कथित संलिप्तता के आरोप में आलम को लखनऊ पुलिस ने सोमवार देर रात गिरफ्तार किया।

Published: 30 Jun 2020, 2:51 PM
लोकप्रिय