'युवा उम्मीदवारों के सपनों को खत्म कर देगी अग्निपथ योजना', कांग्रेस सांसद की मांग- सदन में हो बहस

केंद्र की अग्निपथ योजना को लेकर BJP शासित मध्य प्रदेश सहित देश के कई हिस्सों में विरोध के बीच कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने शनिवार को आरोप लगाया कि यह योजना रक्षा सेवाओं के युवा उम्मीदवारों के सपनों को खत्म कर देगी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र की अग्निपथ योजना को लेकर बीजेपी शासित मध्य प्रदेश सहित देश के कई हिस्सों में विरोध के बीच कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने शनिवार को आरोप लगाया कि यह योजना रक्षा सेवाओं के युवा उम्मीदवारों के सपनों को खत्म कर देगी। उन्होंने कहा, "संसद में बहस करें, पूर्व जनरलों से बात करें और विशेषज्ञों से सलाह लें कि यह नीति देश के लिए अच्छी है या नहीं।"

तन्खा ने आरोप लगाया कि एक मंत्रालय में तैयार की गई नीति इसे अच्छा नहीं बनाती है, यदि हितधारक और देश इसे मंजूरी नहीं देते हैं, यह एक दोषपूर्ण नीति है। उन्होंने कहा, "ऐसा ही कृषि कानूनों के साथ हुआ।"

उन्होंने उम्मीदवारों से हिंसा का सहारा लेने के बजाय शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने और सार्वजनिक संपत्तियों में तोड़फोड़ ना करने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि संपत्ति देश की है।


ग्वालियर और इंदौर में युवकों ने हिंसक प्रदर्शन किया। उन्होंने गुरुवार और शुक्रवार को मध्य प्रदेश में ग्वालियर, इंदौर और कुछ अन्य स्थानों पर रेलवे संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया, वाहनों को आग लगा दी, सार्वजनिक स्थानों पर हंगामा किया।

मध्य प्रदेश में, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के बावजूद विरोध प्रदर्शन किया गया था कि राज्य पुलिस सेवाओं में 'अग्निवर' (जिन्हें भारतीय बलों द्वारा चुना और प्रशिक्षित किया जाएगा) को वरीयता दी जाएगी।

राज्य पुलिस के अनुसार, ग्वालियर और इंदौर में हिंसा के मामले में मध्य प्रदेश में अब तक लगभग 70 युवकों को गिरफ्तार किया गया है। घटना में एक एसआई और दो कांस्टेबल समेत तीन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए।

इससे पहले शनिवार को, अग्निपथ योजना पर बढ़ते तनाव के मद्देनजर, केंद्र ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) को जारी आंदोलन से निपटने के लिए एक चेतावनी नोट भेजा है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia