कांग्रेस का डोकलाम और तिब्बत पर मोदी सरकार से सवाल, पूछा, देश से सच्चाई क्यों छिपा रही है सरकार?

कांग्रेस ने डोकलाम और तिब्बत में चीन की बढ़ती गतिविधियों को लेकर मोदी सरकार से सवाल पूछा है। पार्टी का दावा है कि डोकलाम के साथ-साथ तिब्बत में भी चीन अपनी वायु सेना को मजबूत कर रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस ने डोकलाम और तिब्बत में चीन की बढ़ती गतिविधियों को लेकर मोदी सरकार से सवाल पूछा है। कांग्रेस ने यह दावा किया है कि डोकलाम के साथ-साथ तिब्बत में भी चीन अपनी वायु सेना को मजबूत कर रहा है। कांग्रेस ने कहा है कि बीते 3 हफ्तों में चीन ने तिब्बत में एयरफोर्स को मजबूत किया है और वहां 51 लड़ाकू विमानों की तैनाती की है। दावों के मुताबिक, तिब्बत क्षेत्र में चीन ने 20 फीसदी ज्यादा लड़ाकू विमानों की तैनाती की है, जोकि भारत के लिए चिंता की बात है।

कांग्रेस ने डोकलाम और तिब्बत में चीन की बढ़ती गतिविधियों को लेकर मोदी सरकार से कई सवाल पूछे हैं। कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछा है कि आखिरकार यह सच्चाई देश से क्यों छिपाई जा रही है। कांग्रेस ने पूछा है, “मोदी सरकार इस मुद्दे से क्यों इंकार कर रही है? आखिर मोदी सरकार देश के सामने वास्तविक तस्वीर क्यों नहीं रखती? क्या हमारा देश सुरक्षित है?”

हाल ही में आए खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, तिब्बत में चीन ने बीते तीन हफ्तों में 47 से 51 की संख्या में लड़ाकू विमान तैनात किए हैं, जोकि पिछले साल जनवरी के मुकाबले 10 ज्यादा हैं। चीन ने तिब्बत के ल्हासा-गोंग्का में 8 लड़ाकू विमान तैनात किए हैं। इसके साथ ही चीन 22 एमआई 17 हेलीकॉप्टर, एक एयरबोर्न केजे 500 विमान आसमान में नजर रखने के लिए तैनात किया है। यही नहीं चीन ने जमीन से हवा में मारकरने वाली मिसाइल यूनिट समेत कई लड़ाकू विमानों और हथियारों को भी तैनात कर चुका है। खबरों के मुताबिक, सिक्किम क्षेत्र में भी चीन के कई लड़ाकू विमान देखे गए हैं।

डोकलाम के मुद्दे पर लगातार चीन भारत को आंखें दिखाता रहा है। चीन यह खुलेआम कह चुका है कि डोकलाम उसके सीमा क्षेत्र में है। ऐसे में वह डोकलाम में भारत की दखलअंदाजी बर्दास्त नहीं करेगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 05 Feb 2018, 3:50 PM
;