इंदौर में सर्वे करने पहुंची स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर चाकू से हमला, शिक्षिका को मारा थप्पड़

कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के लिए स्वास्थ्यकर्मी कड़ी मेहनत कर रहे हैं। लेकिन हाल के दिनों में देश में कुछ ऐसी घटनाएं घटी हैं जो इन कोरोना योद्धाओं का मनोबल तोड़ता है। देशभर से स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की खबरें आ रही हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के लिए स्वास्थ्यकर्मी कड़ी मेहनत कर रहे हैं। लेकिन हाल के दिनों में देश में कुछ ऐसी घटनाएं घटी हैं जो इन कोरोना योद्धाओं का मनोबल तोड़ता है। देशभर से स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की खबरें आ रही हैं। मध्य प्रदेश में एक बार फिर से स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया है।

घटना मध्य प्रदेश के इंदौर की है। जहां स्वास्थ्य विभाग की सर्वे कर रही टीम पर पलासिया थाने के विनोबा नगर में हमला किया गया। सर्वे टीम पर चाकू से हमला किया गया। वहीं बीच-बचाव करने के लिए आए पड़ोसियों को भी इस दौरान चाकू लग गया।

सर्वे टीम में डॉक्टर, टीचर, पैरामेडिकल औए आशा कार्यकर्ता शामिल थे। हमला करने वाला शख्स इलाके का गुंडा बताया जा रहा है। हमले के बाद सभी स्वास्थ्यकर्मी पलासिया थाने पहुंचे। जहां उन्होंने पूरी घटना के बारे में बताया और शिकायत दर्ज करवाई।

उन्होंने घटना के बारे में बताया कि हमलावर ने सर्वे टीम में शामिल शिक्षिका को थप्पड़ मारा और उनका मोबाइल भी तोड़ दिया। इसके साथ ही महिलाओं को अभद्र शब्द भी कहे गए। सर्वे इंचार्ज आयुर्वेदिक डॉक्टर प्रवीण चौरे ने इस घटना की पुष्टि की।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा इंदौर में कोरोना के मामले सामने आए हैं। इंदौर में इससे पहले भी स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिस पर हमले की घटना हुई है। इससे पहले 1 अप्रैल को इंदौर के टाटपट्टी बाखल इलाके में कोरोना स्क्रीनिंग करने गयी स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया था। जिसके बाद देश भर में घटना का विरोध हुआ था। कलेक्टर ने बाद में आरोपियों पर रासुका लगाकर उन्हें जेल भेज दिया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 18 Apr 2020, 6:00 PM
लोकप्रिय