कोरोना को रोकने के  लिए केजरीवाल का 5T प्लान, जानिए इसमें कैसे होगा काम

दिल्ली में कोरोना वायरस की चुनौती का सामना करने के लिए दिल्ली सरकार ने फाइव स्‍टेप प्‍लान तैयार किया है।सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 5 टी में पहला टी है टेस्टिंग, दूसरा है ट्रेसिंग, तीसरा है ट्रीटमेंट, चौथा है टीम वर्क और पांचवा है ट्रैकिंग और मॉनीटरिंग।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली में कोरोना वायरस की चुनौती का सामना करने के लिए दिल्ली सरकार ने फाइव स्‍टेप प्‍लान तैयार किया है।सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 5 टी में पहला टी है टेस्टिंग, दूसरा है ट्रेसिंग, तीसरा है ट्रीटमेंट, चौथा है टीम वर्क और पांचवा है ट्रैकिंग और मॉनीटरिंग। उन्होंने कहा कि हमें कोरोना को हराने के लिए इस प्लान पर काम करना होगा।

केजरीवाल ने कहा कि जो देश कोरोना वायरस की जांच के लिए टेस्‍ट करने में आगे रहे, उन्‍होंने इस संक्रमण को कंट्रोल किया। इसके लिए 'फाइव T' प्‍लान तैयार किया है।

क्या है केजरीवाल का 'फाइव T' प्‍लान

1. टेस्टिंग:

सीएम ने कहा कि जिन देशों में कोरोना की बड़े पैमान पर टेस्टिंग नहीं की, वहां कोरोना का खतरा बढ़ा। साउथ कोरिया जैसे देशों ने बड़े पैमान पर टेस्टिंग करके इस खतरे पर काबू पाया। देश की राजधानी में अगले कुछ दिनों में एक लाख से ज्यादा टेस्ट किए जाएंगे। हमने 50 हजार लोगों के टेस्ट के लिए आर्डर किया है। एक लाख लोगों के रैपिड टेस्ट के लिए किट्स आर्डर कर दी है। यह किट शुक्रवार से आनी शुरू होगी। दिल्‍ली में कोरोना के निजामुद्दीन जैसे हॉट स्पॉट में रैपिड टेस्ट कराएंगे।

2. ट्रेसिंग:

केजरीवाल ने बताया कि जो कोरोना पॉजिटिव निकलेगा उसको प्रापर तरीके से ट्रेस करेंगे। अभी तक ट्रेसिंग अच्छी चल रही है, अब इसमें पुलिस की भी मदद लेंगे। पुलिस को 27,702 लोगों के फोन नंबर देकर मॉनिटरिंग कर रहे हैं। मरकज के लोगों के 2 हजार नंबर भी पुलिस को देंगे। इसी तरह निजामुद्दीन मरकज वाले जहां गए थे वहां सील करेंगे।

3. ट्रीटमेंट: सीएम ने बताया कि इलाज यानी ट्रीटमेंट के लिए हमारे पास तीन हजार बेड तैयार हैं, इसमें 2450 सरकारी हैं। बाकी प्राइवेट मैक्स साकेत, गंगाराम और अपोलो में हैं। आज दिल्ली में 2950 बेड हैं, 525 मरीज हैं। अगर 3,000 से ज्यादा मरीज हुए तो इसकी प्‍लानिंग भी हमने की है। अगर 30,000 एक्टिव मरीज भी दिल्ली में हुए तो उसकी प्लानिंग हमने की है। 8 हजार हॉस्पिटल बेड, 12 हजार होटल के कमरे टेकओवर करेंगे। 10 हजार मरीज धर्मशाला और बैंक्वेट में रहेंगे। 30 हजार मरीज होने पर 400 वेंटीलेटर की जरूरत पड़ेगी।

4. टीम वर्क:

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना का अकेले कोई सामना नहीं कर सकता। इसके लिए टीम वर्क से काम होगा। सरकार एक टीम की तरह काम कर रही हैं। देश की सभी राज्य सरकारों को मिलकर काम करना होगा।

5. ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग:

उन्‍होंने बताया कि जो प्लान बनाया है वो ठीक से लागू हो इसकी पूरी जिम्मेदारी मेरी है। अगर कोरोना से 3 कदम आगे रहेंगे तो हम यह लड़ाई जरूर जीतेंगे।

Published: 7 Apr 2020, 5:28 PM
लोकप्रिय
next