दिल्ली शराब घोटाले में अब सीएम केजरीवाल को समन, CBI ने 16 अप्रैल को पूछताछ के लिए बुलाया

सीबीआई ने सीएम केजरीवाल को समन जारी कर 16 अप्रैल को सुबह 11 बजे पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा है। इस मामले में दिल्ली के पूर्व उपमुख्मयंत्री मनीष सिसोदिया पहले से ही जेल में हैं।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली आबकारी नीति मामले में हुए कथित घोटाले की जांच की आंच अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तक पहुंच गई है। दरअसल सीबीआई ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को पूछताछ के लिए बुलाया है। सीबीआई ने सीएम केजरीवाल को समन जारी कर 16 अप्रैल को सुबह 11 बजे पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा है। इस मामले में दिल्ली के पूर्व उपमुख्मयंत्री मनीष सिसोदिया पहले से ही जेल में हैं।  

गौरतलब है कि मनीष सिसोदिया को दिल्ली सरकार की नई शराब नीति में कथित घोटाले के आरोप में सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। सीबीआई के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ई़डी) ने भी उनसे जेल में ही पूछताछ की थी। ईडी ने पूछताछ के बाद जेल से ही मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने मनीष सिसोदिया को रिमांड पर लेकर भी पूछताछ की थी। मनीष सिसोदिया ने इसी मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट में याचिका दायर कर जमानत मांगी थी। लेकिन कोर्ट ने इसे मंजूर नहीं किया। सीबीआई इस मामले में पहले ही चार्जशीट दाखिल कर चुकी है और वे सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल करने वाली है।


क्या है शराब घोटाला मामला?

दिल्ली की नई आबकारी नीति में गड़बड़ी का आरोप सबसे पहले दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार ने लगाया था। नरेश कुमार ने उपराज्यपाल वीके सक्सेना को सौपी रिपोर्ट में आबकारी नीति में गड़बड़ी के साथ डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया पर शराब कारोबारियों को अनुचित फायदा पहुंचाने का भी आरोप लगाया था। इसके बाद दिल्ली के एलजी ने इस रिपोर्ट के आधार पर 22 जुलाई 2022 को सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। इस सिफारिश पर सीबीआई ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की और सिसोदिया समेत कई लोगों से पूछताछ की और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस केस में मनीष सिसोदिया समेत 15 लोगों को आरोपी बनाया गया था। 22 अगस्त को ईडी ने आबकारी नीति में मनी लॉन्ड्रिंग का केस भी दर्ज किया था। करीब छह महीने की जांच के बाद सीबीआई ने मनीष सिसोदिया को फरवरी महीने में गिरफ्तार कर लिया था। सिसोदिया अब भी जेल में हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;