'विपक्ष के नेताओं को चुनाव प्रचार से रोकने के लिए BJP ने ED को बनाया अपना हथियार', गोपाल राय का गंभीर आरोप

दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय का कहना है कि बीजेपी किसी भी तरह नहीं चाहती है कि विपक्ष का कोई भी नेता लोकसभा चुनाव में प्रचार कर पाए। विपक्ष के नेताओं को चुनाव प्रचार से रोकने के लिए बीजेपी ने ईडी को अपना हथियार बना लिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी ने चौथा समन भेजा है। केजरीवाल को नोटिस भेजे जाने पर आप ने बीजेपी पर तीखा हमला बोला है। पार्टी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल को लोकसभा चुनाव की तैयारी और चुनाव प्रचार करने से रोकने के लिए बीजेपी ने ईडी से यह चौथा समन भिजवाया है।

दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय का कहना है कि बीजेपी किसी भी तरह नहीं चाहती है कि विपक्ष का कोई भी नेता लोकसभा चुनाव में प्रचार कर पाए। विपक्ष के नेताओं को चुनाव प्रचार से रोकने के लिए बीजेपी ने ईडी को अपना हथियार बना लिया है। अरविंद केजरीवाल का 18 जनवरी से तीन दिवसीय गोवा दौरा है। जबकि, शनिवार को ईडी ने समन भेजकर 18 जनवरी को ही केजरीवाल को बुलाया है। यह कोई इत्तेफाक नहीं है। हमारा अनुरोध है कि ईडी को बीजेपी का फ्रंटल संगठन बनने से बचना चाहिए। साथ ही, बीजेपी को भी ईडी का राजनीतिक दुरुपयोग करने से बचना चाहिए।

शनिवार को पार्टी मुख्यालय में आप के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल को ईडी ने एक बार फिर नोटिस भेजा है। सीएम लोकसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर 18, 19 और 20 जनवरी को तीन दिवसीय दौरे पर गोवा जाएंगे और अब मीडिया के जरिए खबर मिली है कि ईडी ने समन जारी कर 18 जनवरी को बुलाया है। यह कोई इत्तेफाक नहीं है। ईडी इतने दिनों से चुप बैठी रही, लेकिन जब शुक्रवार को अरविंद केजरीवाल के गोवा दौरे का कार्यक्रम मीडिया में घोषित हुआ, तो ईडी ने भी नोटिस भेज दिया।


राय ने कहा कि इस नोटिस से यह साफ दिख रहा है कि अरविंद केजरीवाल लोकसभा चुनाव का प्रचार और चुनाव की तैयारियां न कर सकें, इससे रोकने के लिए ईडी को एक हथियार बनाया गया है। ऐसा लगता है कि ईडी एक फ्रंटल संगठन की तरह काम कर रही है। जबकि, ईडी एक संवैधानिक संस्था है।

उन्होंने कहा कि संवैधानिक संस्था का नोटिस मुख्यमंत्री के पास पहुंचने से पहले मीडिया में लीक कर दी जाती है। ईडी की नोटिस मुख्यमंत्री तक नहीं पहुंची है और हमें मीडिया से नोटिस भेजे जाने की खबर मिल गई कि ईडी की चौथी नोटिस जारी हो गई है। बिना सिर-पैर के एक राजनीतिक मकसद से अरविंद केजरीवाल को रोकने के लिए बार-बार ये लोग जो नोटिस भेजते जा रहे हैं, उसे बंद करना चाहिए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;