कुछ घंटों में और भी खतरनाक हो सकता है चक्रावाती तूफान ‘फानी’, कई इलाकों में अलर्ट जारी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने रविवार को बताया था कि अगले 12 घंटों में फानी के ‘गंभीर चक्रवाती तूफान’ के रूप में और उसके 24 घंटों के बाद ‘ बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान’ के रूप में और तेज होने की आशंका है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक चक्रवाती तूफान ‘फानी’ आने वाले कुछ घंटों में बेहद ही भीषण रूप लेने वाला है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात फानी फिलहाल बंगाल की खाड़ी और इससे सटे पूर्वी भूमध्यरेखीय हिंद महासागर के ऊपर बना हुआ है, और सोमवार को इसके 'बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान' में तब्दील होने की आशंका है। इसके अलावा पुडुचेरी के साथ-साथ तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों की स्थिति आने वाले कुछ दिनों तक ठीक नहीं होगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

फानी त्रिंकोमाली (श्रीलंका) से लगभग 750 किलोमीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व में, चेन्नई से 1,080 किलोमीटर दक्षिणपूर्व में और मछलीपट्टनम (आंध्र प्रदेश) से 1,260 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व में केंद्रित है।

आईएमडी ने एक बुलेटिन में कहा, "इसकी अगले 12 घंटों के दौरान 'बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान' के रूप में और उसके 24 घंटों के बाद 'गंभीर चक्रवाती तूफान' में और तेज होने की आशंका है। फानी की धीरे-धीरे 30 अप्रैल तक उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और उसके बाद उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि ओडिशा और बांग्लादेश के तटों की ओर बढ़ने के लिए चक्रवात आंध्र के तट से 200 से 300 किलोमीटर दूर आ सकता है।

चक्रवात के प्रभाव के कारण, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में 30 अप्रैल और एक मई को भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि आंध्र प्रदेश के सभी जिलों में अलग-अलग स्थानों पर 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी और बारिश होगी।

अधिकारियों ने विशाखापट्टनम, मछलीपट्टनम, कृष्णपट्टनम और निजामपट्टनम बंदरगाहों को लेकर चेतावनी जारी की है।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय