राजाजी टाइगर रिजर्व पहुंची जंगल की आग, एसडीआरएफ से मांगी गई मदद

लगातार बढ़ रहे तापमान के कारण इन दिनों जंगल की आग से उत्तराखंड में हाहाकार मचा हुआ है। राजाजी टाइगर रिजर्व में पिछले कई दिनों से धधक रहे जंगल वन कर्मियों के लिए परेशानी का सबब बन रहे हैं।

Photo: Kushagra Dixit/IANS
Photo: Kushagra Dixit/IANS
user

नवजीवन डेस्क

लगातार बढ़ रहे तापमान के कारण इन दिनों जंगल की आग से उत्तराखंड में हाहाकार मचा हुआ है। राजाजी टाइगर रिजर्व में पिछले कई दिनों से धधक रहे जंगल वन कर्मियों के लिए परेशानी का सबब बन रहे हैं। इसे देखते हुए एहतियात के तौर पर प्रभागीय वनाधिकारी हरिद्वार ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर आग पर काबू पाने के लिए एसडीआरएफ की मदद मांगी है। साथ ही राजाजी टाइगर रिजर्व के अधिकारियों को आग बुझाने में सहयोग का भरोसा दिलाया है। मनसा देवी मंदिर की पहाड़ियों पर पिछले दो दिनों से लगातार जंगल की आग ने विकराल रूप धारण किया हुआ है। पार्क कर्मी अपने स्तर से आग पर काबू पाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। लेकिन, तेज हवा और पहाड़ों पर लगी भाभर घास परेशानी का सबब बन रही है। मनसा देवी की पहाड़ी राजाजी टाइगर रिजर्व के अंतर्गत आती है, उससे सटी हुई हरिद्वार वन प्रभाग की हरिद्वार रेंज है।

लगातार जंगल में लग रही आग से सबक लेते हुए प्रभागीय वनाधिकारी दीपक सिंह ने जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय को पत्र लिखकर एसडीआरएफ की मांग की है। डीएफओ दीपक सिंह ने बताया कि वन विभाग आग पर काबू पाने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है। फिलहाल राजाजी के जंगल की आग रोकने के लिए वन विभाग के 30 कर्मचारी भी जुटे हैं।

अगर पार्क प्रशासन मांग करता है तो वह और कर्मचारी देने को तैयार हैं। बताया कि भीषण गर्मी में जंगल के पेड़-पौधे सूखे रहते हैं, जिससे देखते ही देखते आग विकराल रूप धारण कर लेती है। सभी वन क्षेत्राधिकारियों को बराबर जंगल में गश्त के लिए निर्देशित किया गया है। आग से वन विभाग को ज्यादा हानि ना पहुंचे, इसलिए जिलाधिकारी से एसडीआरएफ की मांग की गई है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia