देश के सिख समुदाय के लिए अच्छी खबर, करतारपुर साहिब की सालभर वीजा मुक्त यात्रा को पाकिस्तान तैयार

गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव एससीएल दास ने पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार वाघा में संयुक्त सचिव स्तर की बैठक के बाद कहा कि प्रतिदिन दोनों प्रकार से व्यक्तिगत रूप से या समूह में पांच हजार तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा जाने की अनुमति होगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश के सिख समुदाय के लिए अच्छी खबर है। पाकिस्तान रविवार को करतारपुर साहिब गुरुद्वारे के लिए भारतीय पासपोर्ट धारकों और ओसीआई कार्ड धारकों के लिए सालभर की वीजा-मुक्त यात्रा की अनुमति देने के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमत हो गया है। गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव (आंतरिक सुरक्षा) एस.सी.एल. दास ने पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार वाघा में संयुक्त सचिव स्तर की दूसरी द्विपक्षीय बैठक के बाद इस बात की जानकारी दी। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रतिदिन दोनों प्रकार से व्यक्तिगत रूप से या समूह में पांच हजार तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा जाने की अनुमति होगी।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने अपनी ओर से ढांचागत बाधाओं को उजागर किया और संदेश दिया कि वे चरणबद्ध तरीके से कई भारतीय प्रस्तावों को समायोजित करने में सक्षम हो सकते हैं। भारतीयों ने विशेष अवसरों पर अतिरिक्त 10 हजार तीर्थयात्रियों को करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने की अनुमति देने की मांग उठाई।


रावी के पार पाकिस्तान के नरोवाल जिले में करतारपुर मंदिर है, जहां सिख धर्म के संस्थापक, गुरु नानक देव ने अपने अंतिम दिन बिताए थे, और सिख समुदाय के लिए अत्यं श्रद्धेय हैं। यह गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक मंदिर से लगभग चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia