हरियाणा के सीएम खट्टर का अंबाला में डंडे और काले झंडे से स्वागत, नाराज किसानों ने रोका रास्ता

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को अंबाला में किसानों के गुस्से करना पड़ा। प्रदर्शनकारी किसानों ने मंगलवार को सीएम मनोहर लाल खट्टर को यहां में काले झंडे दिखाए, जहां वह पार्टी के महापौर और वार्ड के उम्मीदवारों के प्रचार के लिए गए थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को अंबाला में किसानों के गुस्से करना पड़ा। प्रदर्शनकारी किसानों ने मंगलवार को सीएम मनोहर लाल खट्टर को यहां में काले झंडे दिखाए, जहां वह पार्टी के महापौर और वार्ड के उम्मीदवारों के प्रचार के लिए गए थे। जैसे ही उनका काफिला शहर के अग्रसेन चौक से गुजर रहा था, किसानों ने इसे रोकने की कोशिश की। हालांकि, पुलिस ने उन्हें रोका और मुख्यमंत्री के लिए एक सुरक्षित मार्ग सुनिश्चित किया।

दरअसल, खट्टर नगर निगम चुनावों के लिए बीजेपी के महापौर और वार्ड उम्मीदवारों के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करने के लिए अंबाला गए थे। जैसे ही उनका काफिला किसानों के सामने से गुजरा तो किसान मुख्यमंत्री को शांतिपूर्वक काले झंडे दिखाने लगे। प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने सीएम की गाड़ियों को दूसरे रास्ते की और मोड़ दिया। बस इसी बात से गुस्साए किसान उनके खिलाफ नारेबाजी करने लगे। जब पुलिस ने उनको शांत कराने की कोशिश की तो देखते ही देखते किसान और भड़क गए और जिस गाड़ी में खट्टर सवार थे उसपर डंडे बरसाना शुरू कर दिया।

डंडे बरसाने के साथ-साथ किसानों ने सीएम खट्टर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिसके चलते कई सरदार किसानों की पगड़ियां गिर गईं, जिससे किसान और ज्यादा भड़क गए और पुलिस से धक्का-मुक्की पर उतर आए। पुलिस के साथ हुई धक्का-मुक्की में कई किसानों को चोटें भी आई हैं।

बता दें कि दिल्ली की सिंधु बॉडर्र पर किसान आंदोलन का आज 27वां दिन है। अबी तक किसानों से सरकार ने कई बार बातचीत की, लेकिन वह बेनतीजा रही। बताया जा रहा है कि आज मंगलवार शाम के एक बार फिर सरकार किसानों से चर्चा करने वाली है। हालांकि किसान पहले ही कह चुके हैं कि जब तक तीनों कानूनों को वापस नहीं किया जाता तब तक आंदोलन चलता रहेगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय