कहर बरपा रही गर्मी: चिलचिलाती धूप से टूटा 122 साल का रिकॉर्ड

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शनिवार को घोषणा की कि लगातार गर्म हवाओं के कारण, उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अधिकतम तापमान पिछले 122 वर्षों में अप्रैल महीने में सबसे अधिक रहा।

भारत में टूटा गर्मी का वर्षों पुराना रिकॉर्ड
भारत में टूटा गर्मी का वर्षों पुराना रिकॉर्ड
user

नवजीवन डेस्क

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शनिवार को घोषणा की कि लगातार गर्म हवाओं के कारण, उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अधिकतम तापमान पिछले 122 वर्षों में अप्रैल महीने में सबसे अधिक रहा। 28 अप्रैल, 2022 तक दर्ज किया गया तापमान (अधिकतम और औसत) पिछले 122 वर्षों में 35.05 डिग्री सेल्सियस के साथ चौथा उच्चतम है।

इससे पहले मार्च 2022 देश के साथ-साथ उत्तर पश्चिम भारत के लिए 122 वर्षों में सबसे गर्म था। अप्रैल 2022 के लिए उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के लिए औसत अधिकतम तापमान 35.90 डिग्री सेल्सियस और 37.78 डिग्री सेल्सियस था।


विभाग ने कहा कि मई में भी तापमान सामान्य से ऊपर बना रहेगा। आईएमडी महानिदेशक ( मौसम विज्ञान) मृत्युंजय महापात्र ने एक मीडिया सम्मेलन में बताया, "मई के दौरान, पश्चिम-मध्य और उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश हिस्सों और पूर्वोत्तर भारत के उत्तरी हिस्सों में सामान्य से अधिकतम तापमान रहने की संभावना है। देश के शेष हिस्सों में सामान्य से कम अधिकतम तापमान होने का संभावना है।"

"दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत और चरम उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में सामान्य से न्यूनतम तापमान की संभावना है।"

इस बीच, देश भर में मई में औसत बारिश सामान्य से अधिक होने की संभावना है (लंबी अवधि के औसत का 109 प्रतिशत से अधिक)। महापात्र ने कहा, "उत्तर पश्चिमी भारत के कुछ हिस्सों और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों के साथ-साथ चरम दक्षिणपूर्व प्रायद्वीप को छोड़कर भारत के अधिकांश हिस्सों में सामान्य या सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 30 Apr 2022, 3:44 PM