योगी राज में भगवा संगठन का तुगलकी फरमान, कहा-अलीगढ़ के स्कूलों में क्रिसमस नहीं मनाने देंगे

विश्व हिंदू परिषद से जुड़े हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने अलीगढ़ के स्कूलों को चेतावनी दी है कि अगर स्कूलों में क्रिसमस मनाया गया, तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में भगवा संगठन की ओर से स्कूलों के लिए एक तुगलकी फरमान जारी किया गया है। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) से जुड़े कार्यकर्ताओं ने 19 दिसंबर को अलीगढ़ के स्कूलों को चेतावनी दी है कि अगर स्कूलों में क्रिसमस मनाया गया, तो इसके गंभीर परिणाम होंगे। हिंदू जागरण मंच ने शहर के सभी स्कूलों को एक पत्र जारी कर कहा है कि अगर स्कूलों में क्रिसमस मनाया जाएगा तो वे उसका विरोध करेंगे।

हिंदू जागरण मंच की ओर से यह चेतावनी शहर के सभी मिशनरी (क्रिश्चियन) स्कूलों को भेजी गई है, जहां हर साल ईसा मसीह के जन्मदिन के अवसर पर धूमधाम से क्रिसमस का त्योहार मनाया जाता है। भगवा संगठनों का आरोप है कि मिशनरी स्कूलों में क्रिसमस के जरिए ईसाई धर्म को बढ़ावा दिया जाता है।

हिंदू संगठन की ओर से चेतावनी मिलने के बाद स्कूल प्रबंधकों में डर का माहौल है। स्कूलों ने पुलिस से सुरक्षा उपसलब्ध कराने की मांग की है। एक मिशनरी स्कूल के प्रधानाध्यापक ने नाम ना जाहिर करने की शर्त पर कहा, “हम कई सालों से क्रिसमस मना रहे हैं और सभी बच्चे खुशी से इसमें भाग लेते हैं। कुछ बाहरी लोग इसका निर्णय कैसे ले सकते हैं कि क्या होना चाहिए और क्या नहीं।”

यूपी सरकार के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने इस मामले की कोई जानकारी ना होने की बात कह कर पल्ला झाड़ लिया है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश पांडे ने कहा, “किसी समूह या किसी अन्य को शहर के स्कूलों में किसी भी उत्सव को बाधित करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।”

उन्होंने कहा, “किसी भी तरह के गैरकानूनी कामों को अनुमति नहीं दी जाएगी और ऐसी किसी भी गतिविधि को विफल कर दिया जाएगा।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia