बिहार में पूर्व CM मांझी, उनकी पत्नी समेत परिवार के कई सदस्य कोरोना पॉजिटिव, होम आइसोलेशन में गए

बिहार में कोरोना अब तेजी से पांव पसार रहा है। राज्य में जहां NMCH के करीब 100 चिकित्सक पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, वहीं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी और उनकी पत्नी सहित उनके परिवार के कई सदस्य भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में कोरोना अब तेजी से पांव पसार रहा है। राज्य में जहां नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) के करीब 100 चिकित्सक पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, वहीं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी और उनकी पत्नी सहित उनके परिवार के कई सदस्य भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं।

मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने सोमवार को बताया कि मांझी सहित उनके परिवार के कई सदस्यों को पिछले कुछ दिनों से खांसी और सर्दी थी। रविवार को सुरक्षा के मद्देनजर कोरोना की जांच करवाई गई, जिसकी रिपोर्ट सोमवार को आई है।

उन्होंने बताया कि रिपोर्ट में पूर्व मुख्यमंत्री मांझी, उनकी पत्नी शांति देवी, उनकी पुत्री पुष्पा मांझी, बहू दीपा मांझी सहित परिवार के अन्य सदस्य और सुरक्षाकर्मी समेत 18 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि मांझी इस समय अपने पूरे परिवार के साथ गया जिले के अपने पैतृक गांव महकार में हैं और कोरोना संक्रमित होने के बाद वहीं सभी होम आइससोलेशन में रह रहे हैं।
इधर, मांझी ने राज्य में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए मुख्यमंत्री से 'जनता दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम को स्थगित करने का आग्रह किया है।


मांझी ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा, बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह है कि जनता दरबार कार्यक्रम को फिलहाल स्थगित रखा जाए, राज्यहित में यह कारगर फैसला होगा।

बता दें कि मुख्यमंत्री प्रत्येक सोमवार को जनता दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में शामिल होते हैं, जहां वे लोगों की समस्या सुनते हैं और समाधान की पहल करते हैं। गौरतलब है कि राज्य में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। एनएमसीएच में रविवार को 194 लोगों की आरटीपीसीआर जांच में 84 चिकित्सक कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं।


इस संबंध में अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह ने बताया कि रविवार को चिकित्सकों की आरटीपीसीआर जांच करायी गयी, जिसमें 84 डॉक्टर संक्रमित पाए गए। शनिवार को 12 चिकित्सक संक्रमित पाये गये थे। सभी संक्रमित चिकित्सक होम आइसोलेशन में हैं।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कुल 352 नये मामले सामने आये, जिससे सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 1074 हो गयी है। पटना जिले में कोरोना के सर्वाधिक 142 मामले सामने आए, जबकि गया जिले में 110 लोग संक्रमण की चपेट में हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia