बदलते चुनावी मौसम में बीजेपी पर आंखें तरेरने के बाद चिराग पासवान ने की राहुल गांधी की तारीफ

मोदी सरकार में मंत्री रामविलास पासवान के बेटे और एलजेपी के संसदीय बोर्ड अध्यक्ष चिराग पासवान ने तीन बड़े राज्यों के चुनाव में कांग्रेस की जीत पर राहुल गांधी की तारीफ करते हुए कहा कि कांग्रेस को लंबे समय बाद जीत मिली है और इसका श्रेय उन्हें देना होगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

पांच राज्यों के चुनावी नतीजों में बीजेपी की करारी हार के बाद एनडीए में बगावत की आग सुलगने लगी है। बीजेपी के सहयोगियों ने अब खुलकर आंख दिखाना शुरू कर दिया है। उपेंद्र कुशवाहा की आरएलएसपी के एनडीए से निकलने के बाद अब राविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ने भी बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मोदी सरकार में मंत्री रामविलास पासवान के बेटे और एलजेपी के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान ने बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जमकर तारीफ कर इसके संकेत दे दिए हैं। उन्होंने राम मंदिर के मुद्दे पर भी बीजेपी को खरी-खरी सुनाई है।

चिराग पासवान ने राहुल गांधी की तारीफ करते हुए कहा, “स्पष्ट तौर पर उनमें एक सकारात्मक बदलाव आया है। कांग्रेस को लंबे समय बाद जीत मिली है और इसका श्रेय राहुल गांधी को ही देना होगा। अगर आप किसी की आलोचना करते हैं तो आपको अच्छा प्रदर्शन करने पर उसकी तारीफ भी करनी चाहिए।”

चिराग पासवान ने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव में अहम मुद्दों को बेहतर तरीके से उठाया। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि कांग्रेस ने किसानों, बेरोजगारी के मुद्दे को बेहतर तरीके से उठाया और हम धर्म और मंदिरों के मुद्दों में उलझे रहे। मैं सरकार से आने वाले समय में विकास के मुद्दे पर ही फोकस करने की गुजारिश करता हूं।”

गौरतलब है कि चिराग पासवान ने मंगलवार को एक के बाद एक दो ट्वीट कर सियासी कयासों को हवा दे दी थी। पहले ट्वीट में उन्होंने टीडीपी और आरएलएसपी के गठबंधन छोड़ने का जिक्र करते हुए एनडीए के कमजोर होने की तरफ इशारा करते हुए अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी को अल्टीमेटम दे दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी को समय रहते अपने सहयोगियों की चिंताओं को दूर करने के प्रयास करने होंगे।

वहीं दूसरे ट्वीट में उन्होंने बिहार में लोकसभा सीटों के बंटवारे का मुद्दा उठाते हुए कहा कि गठबंधन की सीटों को लेकर कई बार बीजेपी नेताओ से मुलाकात हुई लेकिन अभी तक कुछ ठोस बात आगे नहीं बढ़ पाई है। आगे एक तरह से बीजेपी को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि इस विषय पर समय रहते बात नहीं बनी तो इससे नुकसान भी हो सकता है।

चिराग पासवान के ताजा बयानों के राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। दिल्ली से लेकर बिहार तक के सियासी गलियारों में कयास लगने लगे हैं कि ‘मौसम विज्ञानी’ के नाम से चर्चित रामविलास पासवान शायद एक बार फिर चुनाव से ठीक पहले पाला बदलने की तैयारी में हैं। खास बात है कि ये चर्चा आम है कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले चिराग पासवान ने ही रामविलास पासवान को बीजेपी के साथ गठबंधन करने के लिए राजी किया था, जिसका पार्टी को फायदा भी मिला। और अब एक बार फिर चिराग पासवान लोकसभा चुनाव से पहले सक्रिय हो गए हैं तो कयास लगने लगे हैं कि कहीं फिर पाला बदलने की तैयारी तो नहीं है।

लोकप्रिय