तो लाल किले की प्राचीर से देश की जनता से पीएम मोदी ने झूठ बोला? कांग्रेस ने हकीकत से उठाया पर्दा, पढ़िए

पीएम के ‘एक राष्ट्र, एक टैक्स’ के दावे पर कांग्रेस ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि यह देखते हुए कि जीएसटी में 5 टैक्स स्लैब हैं, ‘एक राष्ट्र, एक टैक्स’ वास्तविकता से बहुत दूर है। कांग्रेस ने कहा कि लाल किले से बोलते समय पीएम को याद दिलाना हमारा कर्तव्य है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को लाल किले की प्राचीर से संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कई बड़ी बातें कीं, कई घोषणाएं कीं, जिन पर अब सवाल खड़े किए जा रहे हैं। सवाल सच्चाई का है। सवाल यह है कि पीएम मोदी ने जो बातें कहीं उसमें कितनी सच्चाई है। कांग्रेस पार्टी ने एक-एक करके पीएम मोदी द्वारा लाल किले की प्राचीर से दिए गए भाषणों के पीछे की सच्चाई से जनता को रूबरू करवाया है।

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि पीएम मोदी जब भी बोलते हैं वे गलत आकंड़े पेश कर जाते हैं। लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने को लेकर अपनी सरकार की पीठ थपथपा रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि 10 हफ्ते के भीतर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटाकर हमने सरदार पटेल के सपनों को पूरा करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। पीएम मोदी के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी ने पलटवार करते हुए इसके पीछे की सच्चाई से पर्दा उठाया। कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर कहा, “मोदीजी कृपया हमारे इतिहास के मामले में दुष्प्रचार करके स्वर्गीय सरदार पटेल के कार्य और प्रभाव को मलिन करने का प्रयास न करें। न केवल सरदार पटेल अनुच्छेद-370 के प्रस्तावक थे, बल्कि वो वास्तव में इसके वास्तुकारों में से एक थे।”


कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने पर बोलते हुए पीएम मोदी ने आगे कहा कि ‘एक राष्ट्र, एक संविधान’, यह भावना एक वास्तविकता बन गई है और भारत को इस पर गर्व है। कांग्रेस पार्टी ने कहा कि मोदी सरकार की ‘एक राष्ट्र, एक संविधान’ वास्तविकता को हर कोई जानता है। पार्टी ने कहा कि एकतरफा और अलोकतांत्रिक तरीके से अनुच्छेद-370 को निरस्त किया गया और जम्मू-कश्मीर को बांट दिया गया। कांग्रेस ने तंज कसते हुए कहा कि यह ‘लोकतांत्रिक’ सरकार आगे क्या करेगी इसके बारे में सोचकर भी डर लगता है।

देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने भारतीय अर्थव्यवस्था की तारीफ और इसके लिए अपनी सरकार की पीठ थपथपाई। पीएम ने कहा कि 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था का हमने सपना संजोया है। कुछ लोगों को यह मुश्किल लगाता है, लेकिन मुश्किल लक्ष्य नहीं रखेंगे तो देश आगे कैसे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि मुश्किल चुनौतियों को नहीं उठाएंगे तो चलने का मिजाज कैसे बनेगा। पीएम मोदी के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर कहा, “भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की आदर्श अर्थव्यवस्था वर्तमान तरीके से तो बिलकुल नहीं होगा। वहां तक पहुंचने के लिए हमें जीडीपी के 38 प्रतिशत की कुल निवेश दर के साथ विकास दर को 5 वर्षों तक लगातार 9 प्रतिशत रखने की आवश्यकता है। वर्तमान में हमारी विकास दर 6.8 प्रतिशत के साथ निवेश दर 31.3 प्रतिशत है।”


पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि आज 21वीं सदी की जरूरतों के मुताबिक, आधुनिक बुनियादी ढांचे की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि हमने देश के बुनियादी ढांचे पर 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश करने का फैसला किया है। पीएम मोदी के इस ऐलान पर कांग्रेस पार्टी ने कहा, “पीएम मोदी का यह बयान दर्शकों या मीडिया से अनुकूल ध्यान आकर्षित करने की कोशिश भर है। अर्थव्यवस्था की स्थिति और बुनियादी ढांचे के विकास पर मौजूदा खर्च को देखते हुए, हमारे पास सिर्फ एक सवाल है, पैसा कहां है?”

देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश में एक स्थिर सरकार है, नीति प्रणाली अनुमानित है। उन्होंने कहा कि विश्व भारत के साथ व्यापार करने के लिए उत्सुक है। हम कीमतों को नियंत्रण में रखने और विकास को गति देने के लिए काम कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था के मूल तत्व मजबूत हैं। पीएम मोदी के इस बयान पर कांग्रेस ने पार्टी ने जोरदार पलटवार किया। पार्टी ने कहा कि अमेरिका ने टैरिफ विवाद के बीच भारत को विशेष व्यापार का दर्जा देने से मुंह मोड़ लिया है। कांग्रेस ने कहा कि मौजूदा हालत यह है कि भारत में अंतरराष्ट्रीय निवेश को कम करने, प्रमुख भागीदारों के साथ व्यापार संबंधों को बर्बाद करने, देश में निर्यात उद्योग को नष्ट करने के लिए पूरी तरह से यह सरकार जिम्मेदार है, और ऐसे में पीएम मोदी दूसरे देशों से व्यापार करने को लेकर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं।


स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने जीएसटी को लेकर अपनी सरकार की तारीफ की। उन्होंने कहा कि ‘एक राष्ट्र, एक टैक्स’ के सपने को जीएसटी ने साकार किया है। उन्होंने कहा कि देश ने बिजली क्षेत्र में भी ‘एक राष्ट्र, एक ग्रिड’ को सफलतापूर्वक हासिल किया है। पीएम ने कहा कि आज भारत ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ की बात कर रहा है। इस पर पलटावर करते हुए कांग्रेस पार्टी ने मोदी सरकार को सच्चाई से रूबरू करवाया। कांग्रेस ने कहा, “यह देखते हुए कि जीएसटी में 5 टैक्स स्लैब हैं, ‘एक राष्ट्र, एक टैक्स’ वास्तविकता से बहुत दूर है। लाल किले से बोलते समय पीएम को याद दिलाना भी हमारा कर्तव्य है कि खराब जीएसटी लागू होने से अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ और कई एमएसएमई को मजबूर होना पड़ा है।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 15 Aug 2019, 2:29 PM