हैदराबाद में ISRO के वैज्ञानिक का फ्लैट में शव मिलने से सनसनी, पुलिस ने जताई हत्या की आशंका

मौके से पुलिस को वैज्ञानिक एस सुरेश कुमार फोन नहीं मिला है। फोन गायब है। पुलिस ने इस बात की आशंका जताई है कि उनकी हत्या निजी कारणों से हुई है और इसका उनके आधिकारिक काम से कोई लेना-देना नहीं है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

इसरो के नेशनल रिमोट सेंसिग सेंटर में काम करने वाले वैज्ञानिक एस सुरेश कुमार का हैदराबाद में उनके एसआर नगर स्थित फ्लैट में शव मिला। उनकी मौत की खबर तब मिली जब मंगलवार को उनके फ्लैट का दरवाजा खोला गया। परिजनों की मौजूदगी में पुलिस ने फ्लैट का दरवाज खोला। परिजन और पुलिस जब दरवाजा खोलकर अंदर गए तो एस सुरेश कुमार मृत पाए गए। पुलिस शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच कर रही है। पुलिस को एस सुरेश कुमार की हत्या का शक है।

मौके से पुलिस को उनका फोन नहीं मिला है। उनका फोन गायब है। पुलिस ने इस बात की आशंका जताई है कि उनकी हत्या निजी कारणों से हुई है और इसका उनके आधिकारिक काम से कोई लेना-देना नहीं है। उनकी पत्नी इंदिरा इंडियन बैंक की चेन्नई शाखा में प्रबंधक हैं।

पश्चिम क्षेत्र के डीसीपी एस सुमति ने बताया कि सोमवार को सुरेश साढ़े पांच बजे बारिश में भीगे हुए कार्यालय से घर पहुंचे थे। मंगलवार सुबह घरेलू सहायिका को घर अंदर से बंद मिला। परिवार के सदस्यों को तब शक हुआ जब उन्होंने सुबह उनके साथ वाट्सऐप पर बातचीत नहीं की। पुलिस के मुताबिक, सुरेश का फोन बंद था। ऐसे में जब परिजनों की सुरेश से बात नहीं हुई तो वे चेन्नई से हैदराबाद के लिए रवाना हुए और वह शाम के साढ़े पांच बजे घर पहुंचे। पुलिस की मौजूदगी में फ्लैट का दरवाजा खुलने के बाद सुरेश बरामदे में पड़े मिले। अपार्टमेंट से पुलिस को कोई सीसीटीवी फुटेज नहीं मिला। पुलिस आस-पास के सीसीटीवी कैमरा देखकर संदिग्ध की पहचान में जुटी हुई है।

एस सुरेश कुमार की उम्र 56 साल थी। वे इसरो के एनआरएससी के फोटो प्रभाग में अधिकारी थे। वैज्ञानिक एस सुरेश कुमार केरल के रहने थे। वे करीब 20 सालों से हैदराबाद में रह रहे थे।

Published: 2 Oct 2019, 11:50 AM
लोकप्रिय