जम्मू-कश्मीर: जमात से जुड़े स्कूलों में शैक्षणिक गतिविधियां बंद करने के आदेश, पास के सरकारी स्कूलों में पढ़ सकेंगे छात्र

जम्मू-कश्मीर सरकार ने मंगलवार को एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए स्थानीय जमात-ए-इस्लामी से संबद्ध 'फलाह-ए-आम' ट्रस्ट द्वारा संचालित सभी स्कूलों में शैक्षणिक गतिविधियों को बंद करने का आदेश दिया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर सरकार ने मंगलवार को एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए स्थानीय जमात-ए-इस्लामी से संबद्ध 'फलाह-ए-आम' ट्रस्ट द्वारा संचालित सभी स्कूलों में शैक्षणिक गतिविधियों को बंद करने का आदेश दिया। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव बी. के. सिंह ने कहा कि 'फलाह-ए-आम' ट्रस्ट द्वारा संचालित जम्मू-कश्मीर के स्कूलों में अब सभी शैक्षणिक गतिविधियां तुरंत बंद हो जाएंगी।

स्थानीय जमात-ए-इस्लामी संगठन को जम्मू-कश्मीर सरकार ने पहले ही प्रतिबंधित कर दिया है।
मंगलवार को जारी आदेश में यह भी कहा गया है, "इन प्रतिबंधित संस्थानों में पढ़ने वाले सभी छात्र मौजूदा शैक्षणिक सत्र, यानी 2021-2022 के लिए पास के सरकारी स्कूलों में प्रवेश लें। सभी सीईओ/प्रिंसिपल/जेडईओ इन छात्रों के प्रवेश की सुविधा प्रदान करेंगे।"


प्रशासन के सूत्रों ने बताया कि 12वीं कक्षा तक के करीब एक दर्जन स्कूल फलाह-ए-आम ट्रस्ट द्वारा चलाए जा रहे हैं। इसके अलावा प्राथमिक और मध्य स्तर के दर्जनों अन्य स्कूल हैं जो इस आदेश से प्रभावित होंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia