सहारनपुर: गाय का गोबर नही हटाया तो पत्रकार और उसके भाई को गोलियों से भून डाला

पत्रकार आशीष शर्मा के घर के बाहर उनकी गाय बंधी हुई थी। पड़ोसी महिपाल सिंह गाय के गोबर किए जाने से नाराज था और इसी बात को लेकर कहासुनी हुई। बाद में बात इतनी बढ़ गई कि महिपाल ने अपने पुत्र के मिलकर आशीष शर्मा और उसके भाई को गोलियों से भून डाला।

फोटो: आस मोहम्मद कैफ
फोटो: आस मोहम्मद कैफ

आस मोहम्मद कैफ

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में रविवार को एक सनसनीखेज वारदात का मामला सामने आया है, जिसमें एक मामूली बात को लेकर हुई कहासुनी में आशीष नाम के एक पत्रकार और उसके भाई की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। घटना जिले के मधावनगर इलाके में राणा डेयरी के पास हुई। इस हत्याकांड के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस प्रशासन और कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

फोटो: आस मोहम्मद कैफ
फोटो: आस मोहम्मद कैफ
पत्रकार, आशीष शर्मा

जानकारी के मुताबिक पत्रकार आशीष ने अपने घर के सामने एक गाय बांधी हुई थी, जिसका गोबर हटाने की बात को लेकर आशीष के पड़ोसी महिपाल के बीच कुछ कहासुनी हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि गुस्से में आकर महिपाल और उसके बेटे ने अवैध हथियारों के साथ आशीष के मकान में घुसकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दीं। इसके बाद जैसे ही आशीष और उसका भाई सामने आया तो हमलावरों ने दोनों को गोलियों से भून डाला।

सूचना पाते ही स्थानीय पुलिस ने वहां पहुंचकर घटना की जानकारी ली। पुलिस ने आशीष और उसके भाई को लहुलुहान हालत में अस्पताल पहुंचाया, जहां दोनों को मृत घोषित कर दिया गया।

उधर दोहरे हत्याकांड के बाद इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई और लोगों में भारी नाराजगी फैल गई। जानकारी के मुताबिक पुलिस को भी लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। स्थानीय लोगो ने आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर नारेबाजी की। इसी बीच सीओ मुकेश मिश्रा ने घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को शांत कराया। हमले के बाद से ही सभी आरोपी घर से फरार हो गए।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पत्रकार आशीष शर्मा के घर के बाहर उनकी गाय बंधी हुई थी। पड़ोसी महिपाल सिंह गाय के गोबर किए जाने से नाराज था और इसी बात को लेकर कहासुनी हुई। बाद में बात इतनी बढ़ गई कि महिपाल ने अपने पुत्र के मिलकर आशीष शर्मा के घर पर हमला कर दिया।

बता दें कि पत्रकार आशीष शर्मा के पिता की पहले ही मौत हो चुकी है। उसका परिवार गाय पालता है, जिसे ये लोग अपने घर के बाहर ही बांधते है। रविवार को ही सुबह के समय गाय के गोबर को लेकर राणा डेयरी के पास महिपाल के पुत्र सन्नी ने आशीष के साथ गाली गलौच भी की थी। परिवार के दो लोगों की मौत के बाद आशीष के घर की महिलाएं गहरे सदमें में हैं।

घटना के बाद सहारनपुर में विपक्षी नेताओं में जबरदस्त प्रतिक्रिया देखने को मिली। कांग्रेस नेता इमरान मसूद ने कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था का डंडा बस एक समुदाय को डराने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। एक राजनीतिक संरक्षण प्राप्त लोग बिना कानून के भय के अब घर में घुसकर हत्या कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी के विधायक संजय गर्ग ने इसे एक बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया। फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गयी है।

लोकप्रिय