लखीमपुर खीरी हिंसा: किसान के परिवार ने शव का अंतिम संस्कार करने से किया इनकार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

लखीमपुर खीरी हिंसा में रविवार को हुई हिंसा में मारे गए 19 वर्षीय किसान के परिवार ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने तक शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लखीमपुर खीरी हिंसा में रविवार को हुई हिंसा में मारे गए 19 वर्षीय किसान के परिवार ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने तक शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के दौरे के विरोध में रविवार को हुई हिंसा में मारे गए नौ लोगों में लवप्रीत सिंह और तीन अन्य किसान भी शामिल हैं। मंत्री के काफिले में चार किसानों को एक कार ने कथित तौर पर कुचल दिया था।

लवप्रीत के पिता ने कहा, "मेरे बेटे को एक कार से कुचल दिया गया था। जिम्मेदार व्यक्ति के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। प्रशासन बचाने की कोशिश कर रहा है।" लवप्रीत के शव को एक ताबूत में रखा गया है और परिवार पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहा है।



उनके व्याकुल पिता ने कहा, "जब उसे अस्पताल ले जाया गया, तो उन्होंने फोन किया और कहा, 'कृपया जल्दी आओ'। जब हम अस्पताल पहुंचे, तो वह नहीं था।"

किसानों का आरोप है कि लवप्रीत को कुचलने वाली कार को मंत्री का बेटा आशीष मिश्रा चला रहा था। उत्तर प्रदेश पुलिस ने मिश्रा के खिलाफ मामला दर्ज किया है, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia