देश को बांटने के लिए BJP ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द, लव में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं: अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लव जिहाद को लेकर बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि 'लव जिहाद' शब्द बीजेपी की ओर से गढ़ा गया है ताकि देश को बांटा जा सके और सांप्रदायिक सद्भाव को नुकसान पहुंचाया जा सके।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

रवि प्रकाश

देश में लव जिहाद को लेकर चर्चा जोरों पर है। कई राज्य सरकारें इस मुद्दे को लेकर सक्रिय दिख रहे हैं। बीजेपी शासित प्रदेशों में तो लव जिहाद को लेकर सख्त कानून लाने की तैयारी चल रही है। इन राज्यों में मध्य प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश शामिल हैं। हालांकि ज्यादातर लोग लव को जिहाद से जोड़ने को सही नहीं मानते और बीजेपी सरकारों द्वारा उठाए जा रहे कदमों को राजनीति से प्रेरित बताते हैं। इसी बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लव जिहाद को लेकर बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि 'लव जिहाद' शब्द बीजेपी की ओर से गढ़ा गया है ताकि देश को बांटा जा सके और सांप्रदायिक सद्भाव को नुकसान पहुंचाया जा सके।

राजस्थान के सीएम ने ट्वीट कर कहा, "लव जिहाद बीजेपी द्वारा निर्मित शब्द है ताकि देश को बांटा जा सके और सांप्रदायिक सौहर्द को बिगाड़ा जा सके। शादी एक व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है, इस पर अंकुश लगाने के लिए कानून लाना पूरी तरह से असंवैधानिक है और यह कानून किसी भी अदालत में टिक नहीं पाएगा। प्यार में जिहाद की कोई जगह नहीं है।"

अशोक गहलोत ने अपने आगले ट्वीट में कहा, "वे देश में ऐसा माहौल पदा कर रहे हैं, जहां सहमति रखने वाले व्यस्क सत्ता की दया पर होंगे। शादी एक व्यक्तिगत निर्णय है और ये लोग उस पर अंकुश लगा रहे हैं, यह व्यक्तिगत आजादी छीनने जैसा है।"

सीएम अशोक गहलोत ने अपने तीसरे ट्वीट में लिखा, "यह सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, सामाजिक तनाव को बढ़ावा देने और संवैधानिक प्रावधानों का उल्लंघन करने की चाल जैसी प्रतीत होती है। राज्य किसी भी आधार पर नागरिकों के साथ भेदभाव नहीं करता है।"

लोकप्रिय
next