जिस सीवीसी रिपोर्ट के आधार पर हटाए गए आलोक वर्मा, खड़गे ने खत लिखकर उसे पीएम से की सार्वजनिक करने की मांग

सुप्रीम कोर्ट द्वारा आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक के पद पर बहाल किए जाने के बाद 10 जनवरी को पीएम मोदी की अध्यक्षता में सेलेक्ट कमेटी की बैठक हुई थी। तीन सदस्यीय सेलेक्ट कमेटी की बैठक के बाद सीवीसी रिपोर्ट के आधार पर आलोक वर्मा को निदेशक पद से हटाया गया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने आलोक वर्मा मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीवीसी रिपोर्ट और जस्टिस पटनायक की रिपोर्ट सार्वजनिक किए जाने की मांग की है। इसे लेकर खड़गे ने पीएम मोदी को एक पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने कहा है, “सीवीसी की जांच रिपोर्ट, जस्टिस एके पटनायक की जांच रिपोर्ट और चयन समिति की बैठक का ब्यौरा सार्वजनिक किया जाए, ताकि लोग इस मामले में निष्कर्ष पर पहुंच सके।”

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक के पद पर बहाल किए जाने के बाद 10 जनवरी को पीएम मोदी की अध्यक्षता में सेलेक्ट कमेटी की बैठक हुई थी। तीन सदस्यीय सेलेक्ट कमेटी की बैठक के बाद आलोक वर्मा को सीबीआई के निदेशक पद से हटाने का फैसला लिया गया था। आलोक वर्मा को निदेशक पद से हटाने के लिए सीवीसी रिपोर्ट को आधार माना गया था। सेलेक्ट कमेटी के तीन सदस्यों में से एक मल्लिकार्जुन खड़गे ने आलोक वर्मा को हटाए जाने का विरोध किया था, जबिक पीएम मोदी और जस्टिस सीकरी ने आलोक वार्मा को हटाए जाने के पक्ष में फैसला लिया था।”

सीवीसी रिपोर्ट पर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे हैं। आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक के पद से हटाए जाने के बाद इस मामले में सवीसी जांच की निगरानी करने वाले रिटायर्ड जस्टिस एके पटनायक ने बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि आलोक वर्मा के खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं था, सेलेक्ट कमेटी ने जल्दबाजी में उन्हें निदेशक पद से हटाने का फैसला लिया था।

जस्टिस पटनायक ने यह भी कहा था कि पूरी जांच सीबीआई के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की शिकायत पर की गई थी। जस्टिस पटनायक ने कहा था कि मैंने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सीवीसी की रिपोर्ट में कोई भी निष्कर्ष मेरा नहीं है।

उधर, कांग्रेस पार्टी ने भी अलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक के पद से हटाए जाने और सीवीसी रिपोर्ट पर सवाल खड़े किए थे। यही वजह है कि अब सेलेक्ट कमेटी के सदस्य मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम मोदी से सीवीसी रिपोर्ट को ही सार्वजनिक किए जाने की मांग की है, जिस पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

लोकप्रिय