पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर पीएम मोदी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की आज 130वीं जयंती है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने पंड़ित जवाहर लाल नेहरू को शांतिवन जाकर श्रद्धांजलि दी।

फोटो: @INCIndia
फोटो: @INCIndia

नवजीवन डेस्क

आज देश आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु की जयंती मना रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने शांतिवन जाकर देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को श्रद्धांजलि दी।

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंडित नेहरू को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को उनकी जयंती पर याद किया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लिखा, “उनकी जयंती पर, हम अपने पहले प्रधानमंत्री, एक राष्ट्रकर्मी, दूरदर्शी, विद्वान, संस्था के निर्माता और आधुनिक भारत के महान वास्तुकारों में से एक पंडित जवाहर लाल नेहरू का स्मरण करते हैं।”

कांग्रेस ने अपने ट्विटर अकाउंट से जवाहर लाल नेहरू के विचार को पोस्ट किया। कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा, “जिन्होंने भारत की आजादी के लिए संघर्ष किया और सशक्त संस्थानों व ठोस लोकतंत्र के साथ एक आधुनिक देश की कल्पना की।” इसमें कहा गया, “नेहरू ने भारत को एक नया रास्ता दिखाया जिसकी बदौलत हम आज यहां हैं। आइए उनकी विरासत को कायम रखने की प्रतिज्ञा करते हैं।”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने दादा जवाहरलाल नेहरू को उनकी 130 वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए एक कहानी शेयर की। पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू की एक तस्वीर शेयर करते हुए प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया कि मेरे परदादा के बारे में मेरी पसंदीदा कहानी वह है जब वे पीएमओ से 3 बजे सुबह लौटे तो उनका अंगरक्षक (बॉडीगार्ड) उनके ही बिस्तर पर सो चुका था। यह देख नेहरूजी ने गार्ड को कंबल ओढ़ा दिया और खुद बगल की कुर्सी पर सो गए।

इस टवीट में पार्टी ने यह भी लिखा, “आधुनिक भारत के वास्तुकार, लोकतंत्र के चैंपियन, स्वतंत्रता के लिए लड़ने वाले योद्धा, भारत के प्रथम प्रधानमंत्री नेहरू का सम्मान हम आज और हर दिन करते हैं।”

बता दें कि पंडित नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 में इलाहाबाद में हुआ था। देश की स्वतंत्रता के बाद 15 अगस्त 1947 को वह भारत के पहले प्रधानमंत्री बने और 27 मई 1964 तक वह देश के प्रधानमंत्री रहे। जवाहरलाल नेहरू को बच्चों से खासा लगाव था और बच्चे उन्हें चाचा नेहरू कहकर पुकारते थे। 1964 में पंडित नेहरू के निधन के बाद उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।

Published: 14 Nov 2019, 9:37 AM
लोकप्रिय