मंत्री बात न सुनें तो उन पर प्याज़ फेंको: एमएनस प्रमुख राज ठाकरे की प्याज़ किसानों को सलाह

महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने किसानों को सलाह दी है कि अगर सरकार और मंत्री उनकी बात नहीं सुनें तो उन पर प्याज़ फेंक करअपनी पीड़ा उन तक पहुंचाए। यह सलाह एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने दी है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अब एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने किसानों को सलाह दी है कि अगर सरकार और मंत्री उनकी पीड़ा न समझे तो किसान उनपर प्याज़ फेंके। राज ठाकरे ने यह बात महाराष्ट्र में प्याज़ उत्पादन के बड़े केंद्र नासिक के नासिक जिले के कलवान में प्याज किसानों को संबोधित करते हुए कही।

राज ठाकरे ने कहा कि, ‘‘अगर मंत्री आपकी बात नहीं सुनते हैं या आपकी मांग पूरा नहीं करते हैं तो उन पर प्याज फेंको।’’ ध्यान रहे कि नासिक जिले के ही एक किसान को लेकर हाल में खूब चर्चा रही है। इस किसान को अपनी उपज का बेहद कम दाम मिला तो उसने विरोध के तौर पर वह पैसा प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दिया था।

एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे दो दिन से नासिक दौरे पर हैं। नासिक में देश के आधे प्याज का उत्पादन होता है, लेकिन यहां के किसान थोक बाजार में फसल की गिरती कीमत की शिकायत करते रहे हैं। कुछ दिन पहले प्याज किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिला था और प्रति क्विंटल 500 रुपए की मदद की मांग की थी।

किसानों ने प्रधानमंत्री को बताया था कि प्याज के थोक बाजार में कीमत 28 रुपए प्रति किग्रा से कम होकर एक रुपए प्रति किग्रा पहुंच गई है। ऐसी हालत में उनके लिए लागत हासिल करना भी असंभव है और कर्ज बढ़ता जा रहा है। प्रतिनिधिमंडल में किसानों के अलावा स्थानीय सांसद और विधायक भी शामिल थे।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना - एमएनएस अपने अतिवादी कदमों के लिए जानी जाती है। उत्तर भारतीयों पर हमले हों या मुंबई में रहने वालों को मराठी बोलने के लिए मजबूर करने का मुद्दा। इन सबके लिए एमएनएस अतिवादी घोषणाएं करती रही है जिसका नतीजा कई बार हिंसक भी हुआ है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia