एक उद्योगपति को बचाने में लगी हुई है मोदी सरकार, सरकारी एजेंसियों का हो रहा गलत इस्तेमाल, अखिलेश ने केंद्र पर बोला हमला

अखिलेश यादव ने कहा कि शेयर बाजार में उसकी कंपनियों का शेयर गिर रहा है। पूरी सरकार, पूरा तंत्र, पूरी आर्थिक संस्थाएं लगी हैं बचाने में, जब एक उद्योगपति को बचाने में इतनी संस्थाएं लगी हैं लेकिन नहीं बचा पा रही है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा कि बीजेपी सरकार में अन्याय चरम पर है। लोगों को बेवजह परेशान किया जा रहा है। पुलिस के अधिकारी बीजेपी के कार्यकर्ता की भूमिका में होंगे तो लोगों को न्याय कैसे मिलेगा? उन्होंने कहा कि बीजेपी ने यह जो नई परम्परा शुरू की है, लोकतंत्र के लिए खतरा है। प्रशासन के लोग बीजेपी के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं।

अखिलेश ने कहा कि मोहम्मद आजम खां साहब पर झूठे मुकदमें लगाकर परेशान किया गया है। लोकतंत्र में किसी भी राजनीतिक परिवार के साथ इतना अन्याय नहीं हुआ है जितना बीजेपी सरकार ने मोहम्मद आजम खां साहब के साथ किया है। बीजेपी सरकार सरकारी एजेंसियों का गलत प्रयोग कर रही है। लोकतंत्र में अपने विरोधियों को फर्जी ढंग से कभी नहीं फंसाया गया था।

उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। देश की जनता को बड़े-बड़े सपने दिखाये गये। एक उद्योगपति को दुनिया का नम्बर वन उद्योगपति बनाने का सपना दिखा रही थी। उस उद्योगपति से प्रधानमंत्री की कितनी मित्रता है यह सब जानते हैं। उस उद्योगपति की कंपनियों में सरकारी संस्थाओं का हजारों करोड़ रूपया लगाया गया। अब वह डूब रहा है।


अखिलेश यादव ने कहा कि शेयर बाजार में उसकी कंपनियों का शेयर गिर रहा है। पूरी सरकार, पूरा तंत्र, पूरी आर्थिक संस्थाएं लगी हैं बचाने में, जब एक उद्योगपति को बचाने में इतनी संस्थाएं लगी हैं लेकिन नहीं बचा पा रही है। तो आम जनता, व्यापारी और उद्योगपतियों का क्या हाल होगा? सरकार बताये कि उस डूबती कंपनी में पैसा लगाने वाले एलआईसी और अन्य सरकारी संस्थाओं के जिम्मेदार अधिकारियों को जेल कब भेजेगी?

सपा मुखिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में डीएचएफएल कंपनी में कर्मचारियों के प्रोविडेंट फंड का पैसा लगाने वाले एक अधिकारी को जेल भेजा गया और कई पर कार्रवाई हुई। दिल्ली में सरकार इसी तरह की कार्रवाई कब करेगी। लगातार बीजेपी जनता को धोखा दे रही है। बीजेपी सरकार अब इंवेस्टर्स मीट के नाम पर जनता को धोखा दे रही है। झूठ बोल रही है।


कहा कि सरकार ने आज तक नहीं बताया कि पिछले इंवेस्टर्स समिट से कितना निवेश आया। सच्चाई यह है कि जमीन पर कोई निवेश नहीं उतरा। उत्तर प्रदेश में कहां कौन सा कारखाना लगा। पिछली बार की तरह यह सरकार इस बार भी झूठ बोल रही है। उन्होंने कहा कि जो मिल जा रहा है सरकार उसी से एमओयू कर ले रही है। सब लोग देख रहे हैं कि एक उद्योगपति किस तरह से डूब रहा है। तब अन्य लोग निवेश करने करने कैसे आएंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;