अर्थव्यवस्था को तबाह कर रही हैं मोदी सरकार की नीतियां, वैश्विक सूचकांक में गिर रही भारत की रैंकिंग: येचुरी

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआईएम) ने केंद्र पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि जैसे-जैसे हमारे लोगों में भूख बढ़ती है और वैश्विक सूचकांक में भारत की रैंकिंग गिरती जाती है। मोदी सरकार की नीतियां अर्थव्यवस्था को तबाह कर रही हैं और लोगों के जीवन को बर्बाद कर रही हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआईएम) ने केंद्र पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि जैसे-जैसे हमारे लोगों में भूख बढ़ती है और वैश्विक सूचकांक में भारत की रैंकिंग गिरती जाती है। मोदी सरकार की नीतियां अर्थव्यवस्था को तबाह कर रही हैं और लोगों के जीवन को बर्बाद कर रही हैं। पार्टी महासचिव सीताराम येचुरी ने गुरुवार को केंद्रीय मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, जैसे-जैसे हमारे लोगों में भूख बढ़ती है और वैश्विक सूचकांक में भारत की रैंकिंग गिरती जाती है, मोदी सरकार ने इस साल सौ लाख टन खाद्यान्न निर्यात करने का लक्ष्य रखा है। लोग भूखे मर रहे हैं मुनाफा कमा रहे हैं! हमारे लोगों की जान बचाने के लिए मुफ्त में अनाज बांटें।

येचुरी ने कहा, मजबूत आर्थिक सुधार का दावा करने वाले मोदी के दुष्प्रचार अब किसी को मूर्ख नहीं बना सकते। मोदी सरकार की नीतियां अर्थव्यवस्था को तबाह कर रही हैं और लोगों के जीवन को बर्बाद कर रही हैं। गैर-आईटी भुगतान करने वाले परिवारों को 7.5 किलो माह के सीधे नकद रुपये हस्तांतरण दें।


येचुरी ने केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर देश की अर्थव्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया और कहा कि केंद्र की गलत नीतियों के कारण आज हर वर्ग त्राहिमाम कर रहा है। उन्होंने कहा कि देश के उद्योगों का लगातार निजीकरण किया जा रहा है और पूंजीपतियों के हाथ इसे बेचा जा रहा है। देश में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एजेंडा चल रहा है। उन्होंने कहा कि साम्प्रदायिकता का जहर फैला कर आपसी सद्भावना को बिगाड़ने का काम किया जा रहा है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;