अजय टेनी को बर्खास्त करने से इनकार नैतिक दिवालियापन, एक अपराधी की रक्षा कर रही बीजेपी सरकार: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा, "अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने से सरकार का इनकार उसके नैतिक दिवालियापन का सबसे बड़ा संकेत है। आप एक अपराधी की रक्षा कर रहे हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस ने गुरुवार को गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने के लिए केंद्र सरकार पर हमला तेज कर दिया है, जिनका बेटा कथित रूप से लखीमपुर खीरी हिंसा में शामिल था। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा, "अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने से सरकार का इनकार उसके नैतिक दिवालियापन का सबसे बड़ा संकेत है। आप एक अपराधी की रक्षा कर रहे हैं। अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त किया जाना चाहिए और कानून के अनुसार मामला तय किया जाना चाहिए।"

कांग्रेस नेताओं ने गुरुवार को लखीमपुर खीरी हिंसा के मुद्दे पर लोकसभा में स्थगन नोटिस दिया।
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने बुधवार को आरोप लगाया कि एसआईटी द्वारा किए गए नए खुलासे के आलोक में लखीमपुर खीरी कांड के मुद्दे पर उन्हें लोकसभा में बोलने नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, "वे हमें बोलने नहीं दे रहे हैं इसलिए सदन को बाधित किया जा रहा है। रिपोर्ट आ गई है और उनके मंत्री शामिल हैं, इसलिए इस पर चर्चा होनी चाहिए।"



एसआईटी रिपोर्ट द्वारा हिंसा को पूर्व नियोजित करार दिए जाने के बाद कांग्रेस सांसदों ने बुधवार को लोकसभा में लखीमपुर खीरी की घटना पर चर्चा करने और राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को हटाने की मांग करते हुए कई स्थगन नोटिस दिए।

राहुल गांधी ने पार्टी के मुख्य सचेतक के सुरेश और मनिकम टैगोर के साथ मिलकर टेनी को हटाने के लिए दबाव डाला, जिनके बेटे ने कथित तौर पर चार किसानों को कुचल दिया था, जब वे अक्टूबर में उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में तीन विवादास्पद कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia