दिल्ली-एनसीआर में जोरदार बारिश के साथ पड़े ओले, सड़कों पर भरा पानी, इन इलाकों में ट्रैफिक जाम

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाके में शनिवार को भारी बारिश और ओलावृष्टि हुई। प्रीत विहार, लक्ष्मीनगर, रोहिणी समेत दिल्ली के विभिन्न इलाकों के अलावा, नोएडा और गाजियाबाद में भी ओले गिरे। बारिश के कारण सड़कों पर जगह-जगह जल-भराव के कारण यातायात बाधित रहा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाके में शनिवार को भारी बारिश और ओलावृष्टि हुई। प्रीत विहार, लक्ष्मीनगर, रोहिणी समेत दिल्ली के विभिन्न इलाकों के अलावा, नोएडा और गाजियाबाद में भी ओले गिरे। बारिश के कारण सड़कों पर जगह-जगह जल-भराव के कारण यातायात बाधित रहा। मौसम अधिकारियों ने शाम को भी हल्की बारिश की संभावना जताई है।

आईएमडी ने कहा कि देश की राजधानी में अपराह्न् में आसमान में अंधेरा छा गया और हवाओं की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा पहुंच गई। आईएमडी ने आगे कहा कि शाम को भी हल्की बारिश हो सकती है। अचानक हुई बारिश से महानगर के कई हिस्सों में पानी भर गया और इससे यातायात बाधित हुआ।

दिल्ली यातायात पुलिस ने कहा, "पंचवटी कॉलोनी, आनंद पर्बत, बुलेवार्ड रोड, कश्मीरी गेट, पंजाबी बाग में रोहतक रोड, श्यामा प्रसाद मुखर्जी मार्ग और छत्ता रेल के पास जल भराव के कारण महादेव चौक, बवाना, आजादपुर फ्लाईओवर से फल मंडी की ओर यातायात जाम हो गया।"

पश्चिमी विक्षोभ के कारण संपूर्ण उत्तर भारत सहित देश के अन्य इलाकों में बीते कुछ दिनों से मौसम के मिजाज में बदलाव आया है। मौसम के करवट लेने और बारिश और ओलावृष्टि होने से सर्दी दोबारा लौट आई है। राजधानी दिल्ली और एनसीआर के विभिन्न हिस्सों में शनिवार सुबहर से ही बारिश और ओलावृष्टि हो रही थी। दोपहर बाद नोएडा में भारी ओलावृष्टि हुई, जिससे सड़कों पर जगह-जगह पानी भर गया।

मौसम अनुमानकर्ता स्काइमेट ने पहले ही दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना जताई थी। स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, कम से कम अगले 24 घंटों तक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बारिश के लिए मौसम अनुकूल बना रहेगा। इस दौरान दिल्ली के अलावा गाजियाबाद और नोएडा के उत्तरी भागों में बारिश की संभावना है। हालांकि फरीदाबाद और गुरुग्राम में बारिश के आसार कम हैं।

उत्तर भारत के अन्य भागों, खासतौर पर पंजाब और हरियाणा में पिछले 48 घंटों के दौरान हुई अच्छी बारिश का असर दिल्ली-एनसीआर पर भी देखने को मिल रहा है। शुक्रवार को दिल्ली में ज्यादातर जगहों पर मौसम साफ रहा, लेकिन पड़ोसी राज्यों में बारिश के कारण ठंडी हवाओं का असर देखने को मिला और दिन-रात का तापमान सामान्य से नीचे रिकॉर्ड किया गया।

स्काइमेट के अनुसार, उत्तर भारत में जम्मू-कश्मीर के पास इस समय एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पंजाब और हरियाणा के इलाके में सक्रिय है, जिससे पंजाब और हरियाणा में भारी बारिश हो रही है। चक्रवाती क्षेत्र से बिहार तक एक ट्रफ भी बना हुआ है। इन सिस्टमों ने दिल्ली-एनसीआर में आज रात में बारिश दी है और अगले 24 घंटों तक बारिश के लिए मौसम अनुकूल बना रहेगा।

स्काइमेट की रिपोर्ट के अनुसार, 15 मार्च की दोपहर से राजधानी दिल्ली और एनसीआर में मौसम शुष्क हो जाएगा और कम से कम 20 मार्च तक बारिश की संभावना फिलहाल नहीं है। स्काईमेट के अनुसार, पिछले कुछ दिनों से दिल्ली और एनसीआर में दिन का तापमान सामान्य से दो-तीन डिग्री नीचे रहा है, और 20 मार्च तक दिल्ली में अधिकतम तापमान 30 डिग्री तक जाने की उम्मीद की जा रही है।"

लोकप्रिय
next