नृपेंद्र मिश्रा, पी के मिश्रा को कैबिनेट मंत्री के दर्जे के साथ सेवा विस्तार  

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नृपेंद्र मिश्रा और पी.के. मिश्रा को प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव और अतिरिक्त सचिव के रूप में सेवा विस्तार दे दिया गया है। उनकी नई नियुक्ति 31 मई से प्रभावी है। दोनों को कैबिनेट मंत्री का दर्जा भी दिया गया है।

(बाएं से) पी के मिश्रा, पीएम नरेंद्र मोदी, एनएसए अजित डोवाल और नृपेंद्र मिश्रा
(बाएं से) पी के मिश्रा, पीएम नरेंद्र मोदी, एनएसए अजित डोवाल और नृपेंद्र मिश्रा

नवजीवन डेस्क

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने डॉ नृपेंद्र मिश्रा, आईएएस (रिटायर्ड) को प्रधानमंत्री का प्रमुख सचिव नियुक्त किया है। यह आदेश 31 मई, 2019 से प्रभावी हो गया है। डॉ नृपेंद्र मिश्रा को अपने कार्यकाल के दौरान कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला रहेगा। इसके अलावा रिटायर्ड आईएएस अधिकारी पीके मिश्रा को प्रधानमंत्री का अपर प्रमुख सचिव (एडिशनल प्रिंसिपल सेक्रेटरी) बनाया गया है। यह आदेश भी 31 मई 2019 से प्रभावी हो गया है। कार्यभार के दौरान उन्हें भी कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त रहेगा।

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने यह कहते हुए मंगलवार को दोनों अधिकारियों की नियुक्ति को मंजूरी दे दी कि दोनों की नियुक्ति प्रधानमंत्री के कार्यकाल तक या अगले आदेश तक बरकरार रहेगी।

नृपेंद्र मिश्रा 1967 बैच के यूपी कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। नृपेंद्र मिश्रा 28 मई 2014 को प्रधानमंत्री मोदी के प्रधान सचिव नियुक्त किए गए थे। मिश्रा ट्राई के चेयरमैन भी रह चुके हैं। इस पद से वे 2009 में रिटायर हुए थे। वे 2006 से 2009 के बीच ट्राई के अध्यक्ष थे।

लोकप्रिय