महाराष्ट्र में पहली बार मिले तेजी से फैलने वाले B.A. 4 वैरिएंट के मरीज, पुणे के कम से कम 7 केस

महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड के ओमिक्रॉन स्ट्रेन के बीए.4 और बीए.5 सब-वेरिएंट के पहले मामले पाए गए। पुणे के कम से कम 7 लोगों में सब-वेरिएंट पाए गए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड के ओमिक्रॉन स्ट्रेन के बीए.4 और बीए.5 सब-वेरिएंट के पहले मामले पाए गए। पुणे के कम से कम 7 लोगों में सब-वेरिएंट पाए गए हैं। ओमिक्रॉन कोरोनावायरस वेरिएंट के बीए.4 सब-स्ट्रेन और बीए.5 सब-स्ट्रेन के तीन मामलों के कारण होने वाले कुल चार संक्रमणों का पता चला है।

भारतीय सार्स-कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इंसाकॉग) द्वारा शनिवार को भारत में पहली बार तमिलनाडु और तेलंगाना में बीए.4 और बीए.5 वेरिएंट के मामलों की पुष्टि के कुछ दिनों बाद राज्य में इस सब-वेरिएंट के मामले सामने आए हैं।


इंसाकॉग की रिपोर्ट के अनुसार, तमिलनाडु में 19 वर्षीय एक युवती सार्स-कोव-2 के बीए.4 वेरिएंट से और तेलंगाना का एक पुरुष बीए.5 वेरिएंट से संक्रमित पाया गया।

इंसाकॉग ने एक बयान में कहा, "बीए.4 और बीए.5 विश्व स्तर पर फैलने वाले ओमिक्रॉन वेरिएंट के सब-वेरिएंट हैं। ये इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका से पहले रिपोर्ट किए गए थे और अब कई अन्य देशों से रिपोर्ट किए गए हैं।" इसमें यह भी कहा गया है कि इस वेरिएंट से गंभीर बीमारी या अस्पताल में भर्ती होने की नौबत नहीं आती।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia