अडानी मुद्दे को लेकर मार्च कर रहे सांसद हिरासत में लिए गए, खड़गे बोले- ऐसा ही चलता रहा तो देश में तानाशाही आ जाएगी

कांग्रेस अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे ने कहा, पीएम मोदी जनता से कुछ छुपाना चाहते हैं, नीरव मोदी, ललित मोदी जनता से पैसा लूट कर भाग गए और मोदी जी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं।

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
user

नवजीवन डेस्क

विपक्षी सांसदों ने शुक्रवार को संसद भवन से विजय चौक तक मार्च निकाला। इस मार्च में 14 विपक्षी दल के नेताओं ने हिस्सा लिया। कांग्रेस अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे के नेतृत्व में यह मार्च निकाला गया। विपक्षी सांसद अपने साथ 'लोकतंत्र खतरे में है' लिखा एक बड़ा पोस्टर लिए हुए मार्च में शामिल हुए। हालांकि उन्हें पुलिस ने रोक दिया। पुलिस की ओर से कहा गया कि विजय चौक पर धारा 144 लगाई गई है। इसलिए धरना-प्रदर्शन कानूनी अपराध है। लेकिन संसद आगे बढ़ते रहे। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने विजय चौक पर प्रदर्शन कर रहे विपक्षी सांसदों को हिरासत में ले लिया।

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, जनता का पैसा निकालकर अडानी को ऋण दिया गया। अडानी समूह की संपत्ति की कोई जानकारी नहीं ली गई। उन्होंने कहा कि आज एलआईसी कमजोर हो रहा है, बैंक कमजोर हो रहे हैं। इस पर हम जेपीसी चाहते हैं, लेकिन सरकार सुनना नहीं चाहती।


खड़गे ने कहा, पीएम मोदी जनता से कुछ छुपाना चाहते हैं, नीरव मोदी, ललित मोदी जनता से पैसा लूट कर भाग गए और मोदी जी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। आज मैंने सत्ता पक्ष के एक नेता को कहते हुए सुना। वह कह रहे हैं कि हम ओबीसी का अपमान कर रहे हैं। हम अडानी के बारे में बात कर रहे हैं, यह (बीजेपी) लोग बीच में ओबीसी की बात कर रहे हैं। इस देश में किसी ने पैसा कमाया है तो अडानी ने कमाया। पीएम ने उनकी मदद की, इस मुद्दे पर हम जेपीसी चाहते हैं। हम लड़ते रहेंगे। एकजुट होकर लड़ रहे हैं और आगे भी लड़ेंगे।

उन्होंने कहा, कांग्रेस नेता राहुल गांधी सच बोल रहे हैं, उन्होंने संसद में अडानी से संबंधित मुद्दा रखा। क्या ये गलत है? आज राहुल गांधी को बोलने नहीं दिया जा रहा। इसका मतलब क्या है?.. राहुल गांधी ने आज पत्र लिखकर बोलने की अनुमति मांगी, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई। अगर ऐसा ही चलता रहा तो इस देश में निरंकुशता और तानाशाही आ जाएगी। लोकतंत्र को खत्म करने का काम किया जा रहा है। सबको ईडी, सीबीआई का भय दिखाया जा रहा है।

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
फोटो: विपिन

वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा, 18 पार्टियां मिलकर यही मांग कर रही हैं कि अडानी के मुद्दे पर केंद्र सरकार जेपीसी बनाए और इसकी जांच की जाए, लेकिन सरकार मानने को तैयार नहीं है।

दूसरी ओर कांग्रेस मुख्यालय के बाहर यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन का नेतृत्व यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास ने किया। दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है।



आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;