मेरे शासन में पकिस्तान जैश की मदद से भारत पर करवाता था आतंकी हमले: परवेज मुशर्रफ

पाक पत्रकार नदीम ने पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ से पूछा कि आपके शासन काल में जैश की जानकारी होने के बावजूद इसके खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया गया, तो परवेज बोले कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियां जैश का इस्तेमाल भारत में बम धमाके कराने के लिए कर रही थीं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

पुलवामा हमले के बाद आतंकियों को पनाह दिए जाने वाली वाली बात पर पकिस्तान भले ही चुप्पी साधे हुए हो, लेकिन हाल ही में पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने घाटी के इलाकों में सक्रीय आतंकी संस्था जैश-ए मोहम्मद को लेकर कुछ चौंकाने वाले खुलासे किये हैं। मुशर्रफ ने कहा है कि उनके शासन काल में पकिस्तान जैश की सहायता से कई बार भारत पर आतंकी हमले कर चुका है।

हलांकि वर्तमान समय में परवेज मुशर्रफ ने पकिस्तान द्वारा आतंकवाद के खिलाफ की जा रही कारवाई की प्रशंसा की है। पाक पत्रकार नदीम मलिक को दिए गए एक इंटरव्यू में मुशर्रफ ने बताया कि जिस समय वे पाकिस्तान के राष्ट्रपति थे, तब जैश-ए-मोहम्मद ने भारत में कई बार बम धमाके करवाए थे। परवेज़ ने पकिस्तान की तारीफ करते हुए कहा कि अगर पकिस्तान आतंकवाद को खत्म करने के लिए आगे आता है तो यह बेहद अच्छी बात होगी। बकौल मुशर्रफ, “ मैं हमेशा से कहता रहा हूं कि जैश-ए-मोहम्मद एक आतंकी संगठन है। इस आतंकी संगठन के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए”।

परवेज मुशर्रफ ने यह भी कहा कि दिसंबर 2003 में रावलपिंडी के झांडा चिची में जैश के एक आत्मघाती हमलावर ने 2 बार उन पर हमला किया था लेकिन खुशकिस्मती से वे दोनों बार बाल बाल बच गए थे। उस हमले वाली बात का जिक्र करते हुए मुशर्रफ ने बताया कि उनका काफिला एक पुल से गुजर रहा था तो हलावरों ने पुल में बम फिट किया हुआ था लेकिन खुशकिस्मती से जब तक उस बम का बटन दबा, तब तक उनकी गाड़ी पुल के पार निकल चुकी थी।

नदीम ने मुशर्रफ से पूछा कि आपके शासन काल में जैश की जानकारी होने के बावजूद आपने इसके खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया, तो इस पर परवेज बोले कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियां जैश का इस्तेमाल भारत में बम धमाके कराने के लिए कर रही थीं। इसी वजह से उनके खिलाफ किसी भी तरह की कोई कार्यवाई नहीं की गयी। नदीम ने परवेज मुशर्रफ के इस इंटरव्यू की छोटी सी वीडियो क्लिप ट्विटर पर भी शेयर की थी।

पुलवामा हमले के बाद भारत सहित पूरी दुनिया के कई देशों ने पकिस्तान पर आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए पकिस्तान पर आतंक के खिलाफ कार्यवाई करने का दबाव बनाया था जिसकी वजह से पाकिस्तान ने मंगलवार को जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मसूद अजहर के भाई और बेटे सहित 44 आतंकियों को गिरफ्तार किया था। पाकिस्तान के गृह राज्यमंत्री शहरयार खान अफरीदी ने संवाददाता सम्मेलन में इस कार्रवाई में पकड़े गए 44 सदस्यों में अजहर के भाई मुफ्ती अब्दुर रऊफ और मसूद के बेटे हम्माद अजहर के शामिल होने की बात कही।

लोकप्रिय