बंगाल: CAA विरोधी रैली में शामिल हुआ पोलैंड का छात्र, देश छोड़ने का मिला आदेश

जादवपुर विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले पोलैंड के एक छात्र को सीएए विरोधी रैली में शामिल होना महंगा पड़ गया, जिसके बाद विदेशी नागरिक क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय यानी FRRO ने देश छोड़कर जाने को कह दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारत में पढ़ने वाले पोलैंड के एक छात्र को नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करना महंगा पड़ गया है। जादवपुर विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले इस छात्र को विदेशी नागरिक क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय ने देश छोड़कर जाने को कह दिया है।

खबरों के मुताबिक विश्वविद्यालय ने बताया कि पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में सीएए के विरोध में निकाली गई रैली में छात्र के हिस्सा लेने के बाद यह कदम उठाया गया है। इस घटना से ठीक पहले विश्व भारतीय विश्वविद्यालय की बांग्लादेशी छात्रा को एफआरआरओ ने इसी तरह का निर्देश जारी किया था, जब छात्रा ने परिसर में CAA विरोधी प्रदर्शन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी थी।


बताया जा रहा है कि जादवपुर विश्वविद्यालय के तुलनात्मक साहित्य के छात्र पोलैंड के कामिल सिएदसिंस्की को एफआरआरओ ने अपने कोलकाता कार्यालय में आने को कहा था और वह 22 फरवरी को गया भी था। सिएदसिंस्की को एफआरआरओ ने एक नोटिस थमा दिया और नोटिस की तारीख से दो हफ्ते के भीतर देश छोड़कर जाने को कहा। छात्र वीजा पर भारत में रह रहे विदेशी नागरिक के कथित आचरण को अनुचित बताते हुए यह नोटिस दिया गया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia