लॉकडाउन 2.0 के बीच 27 अप्रैल को PM सभी मुख्यमंत्रियों के साथ फिर करेंगे बैठक, आगे की रणनीति पर होगी चर्चा

माना जा रहा है कि इस बैठक में पीएम राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन के असर को लेकर बात करेंगे। इस दौरान पीएम मुख्यमंत्रियों से फीडबैक भी लेंगे। केंद्र सरकार राज्यों से मिले फीडबैक के आधार पर ही आगे की रणनीति तैयार करेगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारत में कोरोना वायरस के मामले दिन ब दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। कोरोना वायरस से बचने के लिए सरकार ने दूसरी बार देशभर में 3 मई तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया है। इसके अलावा कई राज्यों में इस लॉकडाउन के साथ-साथ कर्फ्यू भी लागू है। इसके अलावा सरकार की ओर से लगातार सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने की बात को दोहराया जा रहा है। माना जा रहा है कि सोशल डिस्टेंसिंग के जरिए ही कोरोना की चेन को तोड़ने में कामयाबी हासिल हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- पालघर मॉब लिंचिंग वीडियो में ‘ओए बस’ को कर दिया ‘शोएब बस’, आरोपियों में एक भी मुस्लिम नहीं : महाराष्ट्र गृहमंत्री

27 अप्रैल को राज्यों के सीएम के साथ पीएम मोदी की बैठक

इन सबके बीच बुधवार शाम को न्यूज एजेंसी एएनआई ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 अप्रैल को एक बार फिर देश के राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करेंगे। हालांकि एजेंसी ने पीएम के इस बैठक के समय और किस बात को लेकर बैठक की जा रही है इसका जिक्र नहीं किया है। माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाकी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर चर्चा करेंगे। इसके अलावा इस बात पर भी चर्चा की जाएगी कि आखिर लॉकडाउन 2.0 का कितना असर राज्यों में देखने को मिला है। इस दौरान पीएम मोदी मुख्यमंत्रियों से फीडबैक भी लेंगे। केंद्र सरकार राज्यों से मिले फीडबैक के आधार पर ही आगे की रणनीति तैयार करेगी।


11 अप्रैल को भी की थी पीएम ने बैठक

आपको बता दें इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्यों के सीएम से 11 अप्रैल को भी चर्चा की थी। इस बैठक में दिल्ली, पंजाब, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के सीएम के साथ-साथ बाकी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी सरकार से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने की अपील की थी। जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने देश के नाम संबोधन में लॉकडाउन की अवधि को 3 अप्रैल तक बढ़ाने का ऐलान किया था। गौरतलब है कि कोरोना महामारी के चलते देश को पहली बार लॉकडाउन का ऐलान पीएम मोदी ने 24 मार्च को किया था और 25 मार्च से तीन हफ्ते यानि 14 अप्रैल के लिए लॉकडाउन किया गया। लेकिन, लगातार कोरोना के नए मामलों के देखने के बाद लॉकडाउन को 2 हफ्ते और बढ़ाकर इसे 3 मई तक किया गया है।

इसे भी पढ़ें- कोरोना मरीजों के लिए घातक बनी ट्रंप की ‘गेमचेंजर’ दवा! इसके इस्तेमाल से हो रही है ज्यादा मौतें: रिपोर्ट

भारत में अबतक कोरोना के कितने मामले ?

वहीं देशभर की स्थिति की बात की जाए तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए आंकड़े जारी किए हैं। इसके मुताबिक, देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 19984 पहुंच गई है। अब तक 640 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्राल के अनुसार, देश में कोरोना के 15474 केस सक्रिय हैं। वहीं, 3870 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर जारी रिपोर्ट के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 1383 मामले सामने आए हैं। इसी 24 घंटे के भीतर 50 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र प्रभावित है। महाराष्ट्र में अब तक 5218 केस सामने आ चुके हैं। इसमें 251 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 722 लोग को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। वहीं, कोरोना से प्रभावित राज्यों में गुजरात दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 2178 केस सामने आ चुके हैं। राज्य में अब तक 90 लोगों की जान जा चुकी है।

इसे भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल के बाद अहमदाबाद में कोरोना पॉजिटिव महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पूरी तरह स्वस्थ है बच्चा

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia