NEET-JEE परीक्षा टालने को सामूहिक याचिका दायर करेगा पंजाब, नवीन पटनायक ने पीएम से की परीक्षा स्थगित करने की मांग

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह कोविड-19 महामारी के बीच सुप्रीम कोर्ट से नीट-जेईई परीक्षा टालने की मांग करने वाले हैं। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर जेईई और नीट की परीक्षा स्थगित करने की मांग की है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह कोविड-19 महामारी के बीच सुप्रीम कोर्ट से नीट-जेईई परीक्षा टालने की मांग करने वाले हैं। इसके लिए उन्होंने अपने एडवोकेट जनरल अतुल नंदा से कहा है कि वे सुप्रीम कोर्ट में सामूहिक समीक्षा याचिका दायर करने के लिए विपक्ष शासित राज्यों में समन्वय करें। इसे लेकर बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सात विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में एक निर्देश जारी किया था।

अमरिंदर सिंह ने ऐसे एक सुझाव के जवाब में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास परीक्षाओं को स्थगित करने के मुद्द पर गौर करने के लिए समय नहीं था। उन्होंने कहा, "हम सभी को परीक्षा स्थगित करने के लिए उच्चतम न्यायालय का रुख करना चाहिए, क्योंकि इससे लाखों छात्रों के जीवन को खतरा है।"

दुनियाभर में ऑनलाइन आयोजित होने वाली परीक्षाओं का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री ने सुझाव दिया कि जेईई और नीट समेत अन्य पेशेवर परीक्षाएं भी ऑनलाइन आयोजित की जा सकती हैं। ऑफलाइन परीक्षाएं आयोजित करके छात्रों को जोखिम में डालने की कोई जरूरत नहीं है।


मुख्यमंत्री ने बैठक में यह भी कहा कि कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के लिए अनिवार्य की गईं अंतिम परीक्षाओं के मुद्दे पर बार-बार दलीलें देने के बाद भी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने उनकी सरकार की चिंताओं का संज्ञान नहीं लिया। उन्होंने सवाल उठाया, "हम सितंबर में कैसे परीक्षाएं करा सकते हैं जबकि अनुमान है कि राज्य में उस समय कोविड अपने पीक पर होगा? मैं भी चाहता हूं कि छात्र परीक्षा दें और पास भी हों, लेकिन संकट के बीच मैं यह कैसे कर सकता हूं?"

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर जेईई और नीट की परीक्षा स्थगित करने की मांग की है। दोनों परीक्षाएं सितंबर के दूसरे हफ्ते में आयोजित की जानी हैं। पटनायक ने कहा कि राज्य में बाढ़ से हालात खराब हैं ओर सरकार कोविड महामारी से जंग लड़ रही है। ऐसे में परीक्षा देने में छात्रों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

इससे पहले पटनायक केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को भी इस बारे में पत्र लिख चुके हैं। पटनायक ने निशंक से कहा कि दोनों परीक्षाओं को स्थगित कर दिया जाय। नवीन पटनायक ने निशंक से ये भी आग्रह किया था कि वो नेशनल टेस्ट एजेंसी से कहें कि ओडिशा के सभी 30 जिलों में परीक्षा के लिए सेंटर बनाए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;