पीएम मोदी की विश्वसनीयता पर उठने लगे हैं सवाल: राहुल गांधी

गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजों पर राहुल गांधी ने पहली बार मीडिया से बात करते हुए कहा कि गुजरात चुनाव के नतीजों ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजों के बाद पहली बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि चुनाव परिणाम बीजेपी को गुजरात में बड़ा झटका लगा है। राहुल गांधी ने गुजरात चुनाव के नतीजों को कांग्रेस पार्टी के लिए अच्छा बताया। उन्होंने कहा, “हमारे लिए अच्छा नतीजा है, ठीक है कि हम हार गए। अगर थोड़ा और ठीक करते तो हम जीत जाते।” राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात ने बीजेपी और मोदीजी को संदेश दिया है कि आपके भीतर का गुस्सा काम नहीं करेगा, प्रेम आपको हरा देगा।

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी जो कह रहे हैं उसे देश सुन नहीं रहा है, यह बात गुजरात ने दिखाई है। उन्होंने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर प्रधानमंत्री को आड़े हाथों लिया। राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव के दौरान मोदीजी ने भ्रष्टाचार की बात लगातार की, लेकिन उन्होंने राफेल और जय शाह के मामले में एक शब्द भी नहीं बोला। राहुल गांधी ने कहा “तीन-चार महीने पहले जब हम गुजरात गए थे तो कहा गया था कि कांग्रेस बीजेपी से नहीं लड़ सकती। इन चार महीनों में हमने राज्य में मजबूती से काम किया। सिर्फ मैंने नहीं, एआईसीसी की टीम और गुजरात के लोगों ने भी काम किया और आपने नतीजे देखे।” मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने एक बार फिर गुजरात मॉडल पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “मुझे गुजरात में पता चला कि मोदीजी का जो मॉडल है, उसे गुजरात के लोग मानते ही नहीं हैं। प्रचार बहुत अच्छा है। मार्केटिंग बहुत अच्छी है, लेकिन अंदर से खोखला है।”

राहुल गांधी ने चुनाव प्रचार के दौरान अपने द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब नहीं देने पर भी पीएम मोदी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि हमने जो अभियान चलाया, उसका प्रधानमंत्री मोदी जवाब नहीं दे पाए।

विकास के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा, “चुनाव परिणाम आने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह विकास का चुनाव है। उन्होंने बोला कि जीएसटी पर मुहर है। लेकिन यह अजीब बात है कि चुनाव के दौरान उनके भाषणों में न तो विकास की बात हुई, न जीएसटी और न ही नोटबंदी की।” राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना करते हुए कहा कि चुनाव से पहले मोदीजी के पास कहने के लिए कुछ नहीं था। राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव के दौरान तीन महीने में गुजरात और वहां की जनता ने उन्हें बहुत कुछ सिखाया है। उन्होंने कहा, “जनता से मैंने ये सीखा कि आपके विरोधी में जितना भी क्रोध हो, जितना भी धन हो, जितना भी बल हो, उसे आप प्यार से, भाईचारे से टक्कर दे सकते हैं।”

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;