तेल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने को लेकर राहुल ने मोदी सरकार को घेरा, बोले- दाम घटाने थे, लेकिन बढ़ा दिए

तेल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने तंज कसते हुए कहा कि मेरी दी गई सलाह को मानने के बजाय, हमारी प्रतिभाशाली वित्त मंत्री ने ईंधन पर उत्पाद शुल्क बढ़ने का ऐलान कर दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर तीन रुपये प्रति लीटर के हिसाब से उत्पाद शुल्क बढ़ाने को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “अभी तीन दिन पहले मैंने प्रधानमंत्री कार्यलय से यह अपील की थी कि वह अंतराष्ट्रीय बाजार में घटी तेल कीमतों के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी लाकर देश के उपभोक्ताओं फायदा दे”। राहुल गांधी ने आगे तंज कसते हुए कहा कि इस सलाह को मानने के बजाय, हमारी प्रतिभाशाली वित्त मंत्री ने ईंधन पर उत्पाद शुल्क बढ़ने का ऐलान कर दिया है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश की थी। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि 'दुनिया भर में कच्चे तेल के दाम घट चुके हैं। मगर हिंदुस्तान में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। कच्चे तेल के दाम में गिरावट का फायदा आम लोगों को क्यों नहीं मिल रहा है? दिल्ली-मुंबई में 36 रुपये में पेट्रोल बेचने का दावा करने वाले भाजपा नेताओं ने किस कम्पनी का टेप मुंह पर लगाया है?'

आपको बता दें, पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में 3 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी गई है। जो शनिवार से ही लागू है। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड द्वारा जारी एक अधिसूचना के अनुसार, पेट्रोल और डीजल पर विशेष शुल्क दो रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिया गया है। इसके अतिरिक्त, दोनों उत्पादों पर सड़क उपकर भी एक रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिया गया है, जिससे केंद्रीय शुल्क तीन रुपये प्रति लीटर बढ़ गया है।

लोकप्रिय
next