देश

राष्ट्रीय सुरक्षा पर राहुल गांधी ने बनाई टास्क फोर्स, सर्जिकल स्ट्राइक के ‘हीरो’ रहे जनरल हु़डा को कमान 

बता दें कि डी एस हुडा सर्जिकल स्ट्राइक के प्रचार के खिलाफ थे। उन्होंने कहा था कि इस हमले के इतना प्रचार की जरूरत नहीं थी। हुड्डा ने कहा था, ‘मुझे लगता है कि इसका कुछ ज्‍यादा ही प्रचार किया गया।

फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर टास्क फोर्स गठित की है। यह टास्क फोर्स देश के लिए एक विजन डॉक्युमेंट तैयार करेगी। भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक की निगरानी करने वाले लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा (रिटायर्ड) इस टास्क फोर्स का नेतृत्व करेंगे। वह विशेषज्ञों के समूह से विचार-विमर्श कर डॉक्युमेंट तैयार करेंगे।

गुरुवार को कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। पार्टी के ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में लिखा गया, 'कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर टास्त फोर्स गठित करने के लिए आज लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा (रिटायर्ड) से मुलाकात की, जो देश के लिए एक विजन पेपर तैयार करेंगे।'

बता दें कि डी एस हुडा सर्जिकल स्ट्राइक के प्रचार के खिलाफ थे। हुड्डा ने कहा था, 'मुझे लगता है कि इसका कुछ ज्‍यादा ही प्रचार किया गया। सेना का ऑपरेशन महत्‍वपूर्ण था और हमें ऐसा करना ही था। पर इसका कितना राजनीतिकरण होना चाहिए था, यह कितना सही है या गलत यह बात राजनेताओं से पूछी जानी चाहिए।'

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने चुनाव में लाभ लेने के मकसद से अपने भाषणों में सर्जिकल स्ट्राइक जिक्र करते रहे हैं। सेना के इस पराकर्म को वह अपने सरकार की उपलब्धी के तौर पर गिनाते रहे हैं। राहुल गांधी ने भी सर्जिकल स्ट्राइक का जरूरत से ज्यादा प्रचार करने को गलत बताया था। उन्होंने दावा किया था कि पीएम मोदी ने सेना का इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए किया और इस पर उन्हें कोई शर्म नहीं है।

Published: 21 Feb 2019, 7:32 PM
लोकप्रिय